--Advertisement--

पड़ोसी ने किया एसिड अटैक, बहिष्कृत होने से मदद के लिए भटकती रही मां—बेटी

पड़ोसी ने किया एसिड अटैक, बहिष्कृत होने से मदद के लिए भटकती रही मां—बेटी

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 06:00 PM IST
एसिड से जली महिला। एसिड से जली महिला।

- शराब के नशे में बहकावे में आकर फेंका एसिड, आरोपी अरेस्ट

- बेटे ने की थी पड़ोसी के बेटे की हत्या, इसलिए गांववालों ने किया परिवार का बहिष्कार

- मदद के लिए चार घंटे तक भटकती रही

चित्तौडगढ़। जिले के निंबाहेड़ा तहसील में एक दिल-दहलाने वाली वारदात सामने आई है। एक व्यक्ति ने शनिवार देर शाम को अपने ही गांव की 60 वर्षीया महिला पर खौलता एसिड फेंक दिया। इसके बाद झुलसी हुई हालत में महिला व उसकी बेटी मदद के लिए गांव में भटकती रही, लेकिन परिवार के बहिष्कृत होने से गांव वालों ने मदद नहीं की। आखिरकार, उपसरपंच ने महिला के दामाद को फोन कर बुलाया। तब करीब चार घंटे बाद उपचार शुरू हो सका। वारदात की सूचना मिलने पर सदर थाना पुलिस ने रविवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

- जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत अरनोदा के गांव चरलिया में रहने वाली 60 वर्षीया हुलासी देवी प्रजापत शनिवार शाम करीब सात बजे पशु चराकर घर लौट रही थी। तभी इसी गांव के गंगाराम भील ने मौका पाकर हुलासी देवी पर खौलता एसिड फेंक दिया और भाग निकला।
- वारदात के बाद दर्द से छटपटाते हुए हुलासी देवी अपने घर पहुंची। मां की यह हालत देखकर छोटी बेटी कंचन भी चीख पड़ी। इसके बाद बेटी अपनी मां हुलासी को अस्पताल पहुंचाने के लिए गांव वालों से रोते बिलखते गुहार करती रही, लेकिन ग्रामीणों का दिल नहीं पसीजा। किसी ने भी मदद नहीं की।

उपसरपंच ने दामाद को फोन किया, फिर चला यह घटनाक्रम:
- इसके बाद अपनी मां को लेकर कंचन अरनोदा पंचायत के उपसरपंच चरलिया निवासी कैलाश सिंह झाला के पास पहुंची।

- मदद की गुहार की तब कैलाश सिंह ने रात करीब साढ़े 8 बजे हुलासी के दामाद जगदीश कुमावत को सूचना दी। करीब पौन घंटे बाद जगदीश ससुराल चरलिया गांव पहुंचा।

- वहां से एंबुलेंस को सूचना दी। बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ घंटे बाद भी एम्बुलेंस नहीं पहुंची तब जगदीश कुमावत ने अपने परिचित गोपाल रावत के निजी वाहन की मदद से देर रात सास हुलासी देवी को निंबाहेड़ा के उप जिला अस्पताल पहुंचाया। गंभीर हालत होने से हुलासी को उदयपुर रेफर कर दिया।

गिरफ्तार आरोपी ने कहा, बहकावे में आकर एसिड फेंका
- सूचना मिलने पर सदर थाने के एएसआई राजाराम मीणा जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे।

- पूछताछ में आरोपी गंगाराम का नाम सामने आया। तब पुलिस ने उसे घेराबंदी कर धरदबोचा। पूछताछ में गंगाराम ने शराब के नशे में किसी अन्य स्थानीय व्यक्ति के बहकावे में आकर हुलासी देवी पर एसिड फेंकने का खुलासा किया।

- पूछताछ में सामने आया कि हुलासी के बेटे भैरूंलाल ने पिछले साल 9 जुलाई को अपने पड़ोसी रिश्तेदार चुन्नीलाल प्रजापत के 17 वर्षीय बेटे किशनलाल उर्फ प्रकाश धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी थी। तब से गिरफ्तार आरोपी भैरूलाल जेल में है।

- इसके बाद ग्रामीणों ने हुलासी के परिवार का बहिष्कार कर मेलजोल व बातचीत बंद कर दी थी।


X
एसिड से जली महिला।एसिड से जली महिला।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..