--Advertisement--

न्यूज हिंदी

न्यूज हिंदी

Danik Bhaskar | Jan 24, 2018, 05:36 PM IST
जयपुर में आयोजित की गई आर्मी क जयपुर में आयोजित की गई आर्मी क

जयपुर. शोल्डर फायर सरफेस हो या फ्लाइ कैचर वैपन दिखने में जितने शांदार उतने की काम के। तोप मिसाइलों के ऐसे ही कई स्वरूप को वैशाली नगर स्थित चित्रकूट स्टेडियम में डिस्पले किया गया है। गंतत्रण दिवस के मौके पर सप्त शक्ति कमांड द्वारा एग्जीबिशन लगाया गया। जिसमें आर्मी यूनिट के पाइप और बैंड ने हिस्सा लिया। जानें क्या रहा खास...

- यहां सिग्लन इक्यूपमेंट ,रेडिया इंटरफेस डिवाइस, मोबाइल विडियो कॉन्फ्रेंस मशीन,राउटर मशीन,टैंकर,तोप ,शिप आई एनएस गंगा एफ 22,एनएस मैसूर समेत कई टेक्निकल इक्यूपमेंट डिस्पले किए गए है। एग्जीबिशन में छोटे बच्चे इस मशीनों के बारे में जानकारी लेने पहुंचे।

- एक्गीबिशन में आर्मी के विभिन्न यूनीट बैंड द्वारा परफार्मेंस,डांस परफार्मेंस नो यॉर आर्मी नाम से लगे इस एग्जीबिशन में जल,थल और वायु सेना के इक्यूपमेंट और मशीनों को एग्जीबिट किया गया। जो कि मुख्य रूप से भारतीय सेना में काम आती हैं।
- फलाई कैचर वैपन कंट्रोल-इस तरह के मशीन से दुश्मन के एयर क्राफ्ट को डिउेकट करती है।एल 70 गन कंट्रोल होती है।इसमें टीवी कैमरा लगा होता है।

- ग्वालियर से आए आफिसर पवार ने बताया कि इसमें आईएफ एफ सिस्टम लगे होते है।

- दुशमन के एयर क्राफ्ट को डिडेकट करके एल 70 के तीनाे गन ऑटोमेटिक मोड पर एक्शन लेते है और दुश्मन के क्राफ्ट को डिस्ट्रॉय करते है।

शोल्डर फॉयर सरफेस टू

ये एयर इग्लावनेम मशीन होता है। ये रशिया में बनाई जाती है।पैसिव आइ आर होता है। ये सिंगल मैंन हैंड मशनी हाेती है। इसकी रेंज पांच किलो मीटर तक की होती है। पांच किलो मीटर तक की रेंज में दुशमन अगर टारगेट से इधर उधर भागे तो भी ये मशीन सेल्फ अडजस्टमेंट के आधापर पर टारगेट पूरा करती है। इसकी हाइट साढे तीन मीटर उंचाई तक होती है और वेट 17 किलो है।