Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Old Lady Was Killed For Her Ornaments,Police Arrest Maid And Her Aide

जेवर लूटने के लिए करवाई वृद्धा की हत्या, नौकरानी व साथी युवक गिरफ्तार

वृद्धा की हत्या कर जेवरात लूटने की वारदात घरेलू नौकरानी ने ही अपने रिश्तेदार व परिचित की मदद से करवाई थी।

विष्णु शर्मा | Last Modified - Mar 14, 2018, 03:03 PM IST

  • जेवर लूटने के लिए करवाई वृद्धा की हत्या, नौकरानी व साथी युवक गिरफ्तार
    पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

    अलवर। जिले में तीन दिन पहले एक वृद्धा की हत्या कर जेवरात लूटने की वारदात घरेलू नौकरानी ने ही अपने रिश्तेदार व परिचित की मदद से करवाई थी। अलवर जिले की एनईबी थाना पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए घरेलू नौकरानी व उसके रिश्तेदार युवक को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया जबकि एक आरोपी अभी फरार है। वहीं, हत्या कर लूटे गए गहनों को बरामद कर लिया है। जानिए और इस बारे में ...


    - एसपी अलवर राहुल प्रकाश ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी चरणजीत सिंह उर्फ लाड़ी (20) निवासी पूरेवाल कॉलोनी, थाना सदर, ​जिला पानीपत हरियाणा है। आरोपी महिला लक्ष्मी देवी (35) अलवर जिले में ट्रांसपोर्ट नगर की रहने वाली है।

    जांच में आया लक्ष्मी का नाम सामने

    - एसपी के मुताबिक 11 मार्च को स्कीम नंबर 2, अलवर शहर निवासी 82 वर्षीय हीरालाल गर्ग ने 11 मार्च को ट्रांसपोर्ट नगर, अलवर में रहने वाली 80 वर्षीया उनकी बहन तारा गुप्ता की हत्या का मुकदमा एनईबी थाने में दर्ज करवाया था। तब एनईबी थानाप्रभारी देवेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने पड़ताल शुरु की थी। पुलिस ने आसपास घरों में संपर्क किया। किराएदारों का रिकार्ड खंगाला। मृतका तारा देवी के यहां साफ-सफाई करने वाली घरेलू नौकरानियों के बारे में जानकारी जुटाई तब आरोपी लक्ष्मी का नाम सामने आया।

    पहले काम साफ सफाई का काम करतीथी

    - यह भी तथ्य सामने आया कि फिलहाल आरोपी लक्ष्मी मृतका तारा देवी के यहां पहले घरेलू कामकाज करती थी। वहां से काम छोड़कर वह अब तारा देवी के पड़ोस में काम कर रही है, लेकिन लक्ष्मी का तारा देवी के यहां आना-जाना था। संदेह होने पर पुलिस ने लक्ष्मी की निगरानी की। तब पता चला कि उसके पास एक युवक चरणजीत भी रहता है जिसे वह अपनी बहन का बेटा बताया करती थी। उसे भी तारा देवी के घर की पूरी जानकारी थी। इससे उन्होंने अकेली तारा देवी की हत्या कर लूटपाट की साजिश रची।

    साफ-सफाई में मदद के बहाने बाथरूम का दरवाजा खोला, इसी से होकर घुसे हत्यारे
    - पूछताछ में सामने आया कि 10 मार्च को आरोपी लक्ष्मी मृतका तारा देवी के घर पहुंची। वहां उन्हें बातों में लगाया और साफ-सफाई करने में मदद के बहाने मकान के पीछे बाथरूम का दरवाजा खोल दिया। इसकी तारा देवी को भनक नहीं लगी। लक्ष्मी के जाने के बाद अंधेरा ढलने पर चरणजीत व उनके दोस्त कैलाश ने बाथरूम के दरवाजे से तारा देवी के मकान में प्रवेश कर तारा देवी की मुंह दबाकर हत्या कर दी। फिर जेवरात लूटकर फरार हो गए। मामले में फरार कैलाश अभी फरार है। उसकी तलाश जारी है।





    इकलौता बेटा बाहर रहता है, घर में अकेली थी बुजुर्ग मां
    थानाप्रभारी देवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि 80 वर्षीया मृतका तारा गुप्ता हाउसिंग बोर्ड, ट्रांसपोर्ट नगर में अकेली रहती थी। उनका इकलौता बेटा हरि गुप्ता फरीदाबाद में रहता है। 11 मार्च को दूध देने वाली ने काफी आवाज दी लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। तब पड़ोसियों ने तारा देवी के बेटे हरि गुप्ता को फोन कर बताया कि उनकी मां ने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर रखा है। वे जवाब नहीं दे रही है। हरिओम ने अपने मामा हीरालाल गर्ग व धनेश को सूचना दी। तब तारा देवी के दोनों भाई मौके पर पहुंचे।
    घर के दरवाजे व ताले तोड़े तो कमरे में पड़ी थी लाश
    पड़ोसियों की मदद से मकान गेट पर लगे दरवाजे का ताला तुड़़वाया। अंदर से बंद गेट को तोड़कर प्रवेश किया तो पलंग पर तारा देवी की लाश पड़ी थी। उनके दोनों हाथ व मुंह कपड़े से बंधे थे। उनके कान कटे थे। कानों के टॉप्स, हाथों की चूडिय़ां और अन्य पहने हुए गहने गायब थे। पड़ताल में सामने आया कि लूटपाट के इरादे से हत्यारों ने बाथरूम वाले गेट से घर में प्रवेश किया और फिर वहीं से भाग निकले।



दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Old Lady Was Killed For Her Ornaments,Police Arrest Maid And Her Aide
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×