--Advertisement--

ऐप पर लड़कियों से बात करने 10वीं पास ने किए लाखों खर्च, मौज-मस्ती के लिए बन गया ठग

ऐप पर लड़कियों से बात करने 10वीं पास ने किए लाखों खर्च, मौज-मस्ती के लिए बन गया ठग

Dainik Bhaskar

Dec 28, 2017, 11:30 AM IST
राजस्थान के चित्तौड़गढ़ का मामल राजस्थान के चित्तौड़गढ़ का मामल

चित्तौड़गढ़. शहर में तीन माह पूर्व एक कांस्टेबल के बैंक खाते से 50 हजार रुपए उड़ाने वाला बदमाश झारखंड निवासी इंजीनियरिंग डिप्लोमा स्टूडेंट निकला। जो फेसबुक पर लड़कियों से वीडियो चेटिंग जैसे शौक पूरा करने के लिए इस तरह की ऑनलाइन ठगी से रुपए बटोरता है। उसका जिला ऑनलाइन ठगी में कुख्यात हो रहा है। जहां उसके जैसे और भी लोग ऐसे काम में लिप्त है। जानें पूरा मामला...


- कोतवाली सीआई ओमप्रकाश सोलंकी ने बताया कि कांस्टेबल किशनलाल माली के खाते से ट्रांसफर हुए रुपए के पेटीएम खाताधारक के माध्यम से आरोपी के मोबाइल नंबर को ट्रेस करते हुए उड़ीसा के जिला खुरदा थाना झटनी पीता पल्ली शहर से गिरफ्तार कर चित्तौड़ लाया गया। जो 10 वीं कक्षा के बाद माइनिंग इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर रहा है। उसने स्वीकार किया कि वो शौक मौज के लिए ऑनलाइन ठगी करता है।

दिल्ली, मुंबई सहित कई राज्यों की पुलिस दे चुकी है इसके गांव में दबिश


- झारखंड के जिला जामताड़ा के गांवों में अक्सर दिल्ली, मुंबई सहित कई राज्यों की पुलिस ऑनलाइन ठगी के मामलों में आरोपी की तलाश में दबिश देती रहती है। दो माह पूर्व ही वहां पुलिस की बड़ी कार्रवाई हुई थी।

बिगो लाइव ऐप पर लड़कियों से बातें करने में उड़ा दिए लाखों रुपए


- विकास के गांव के आस-पास के गांवों में कई लोग ज्यादातर ऑनलाइन ठगी और परचेजिंग करते हैं। वह भी पांच-छह वर्षों से ऐसा कर रहा है। उसने ठगी के लाखों रुपए बिगोलाइव ऐप पर लड़कियों से वीडियो चेटिंग करने में उड़ा दिए।

सिपाही से की ठगी


- सिंहपुर हाल पुलिस लाइन निवासी सिपाही किशनलाल पुत्र माधुलाल माली ने 19 सितंबर को कोतवाली में रिपोर्ट दी कि सप्ताहभर से उसके बंद पड़े एटीएम कार्ड को चालू कराने के लिए वह कलेक्ट्रेट के पास एसबीआई की मुख्य शाखा में गया था। इसी दौरान किसी ने फेक काल और मैसेज से ओटीपी नंबर पूछ लिए। इसके कुछ देर बाद ही उसके खाते से 49,999 रुपए डेबिट हो गए। मामले की जांच एसआई बुद्वाराम को सौंपी गई।

आरोपी विकास तक यूं पहुंची पुलिस


- किशन के खाते से 50 हजार रुपए जिस पेटीएम खाते में ट्रांसफर हुए, पुलिस ने उस खाताधारक का पता लगाया। यह खाता पंजाब के हरदीपसिंह के नाम था। हरदीप ने पुलिस को बताया कि उसके खाते में विकास ने रुपए ट्रांसफर करवाए थे। जो उसका फेसबुक फ्रेंड है। पुलिस ने हरदीप से विकास के मोबाइल नंबर लेकर उसे ट्रेस किया तो उसकी लोकेशन उड़ीसा में आई। पुलिस उसे वहां से पकड़कर चित्तौड़गढ़ ले आई।

फेसबुक फ्रैंड्स के खातों में ट्रांसफर करते हैं ठगी के रुपए


- विकास के अनुसार उसके जैसे युवा फेसबुक पर फर्जी हाईप्रोफाइल अकाउंट बनाकर दोस्त बनाते हैं। दोस्ती के दौरान शरीफ लोगों से उनके पेटेएम नंबर पूछकर आॅनलाइन ठगी के रुपए उनके एकाउंट में ट्रांसफर करते हैं।

X
राजस्थान के चित्तौड़गढ़ का मामलराजस्थान के चित्तौड़गढ़ का मामल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..