--Advertisement--

टोल हटाने को लेकर ग्रामीणों का उग्र प्रदर्शन, पथराव व तोड़फोड़ की, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

टोल हटाने को लेकर ग्रामीणों का उग्र प्रदर्शन, पथराव व तोड़फोड़ की, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:08 PM IST
टोल पर बड़ी संख्या में ग्रामीण टोल पर बड़ी संख्या में ग्रामीण

जयपुर। चंदवाजी चौमूं टोल प्लाजा को हटाने की मांग को लेकर चल रहे ग्रामीणों के प्रदर्शन ने रविवार को उग्र रूप ​ले लिया। पुलिस और प्रदर्शनकारी आमने सामने हो गए। पुलिस ने भीड़ को खदेड़ने के लिए हल्का ​बल प्रयोग किया तो गुस्साई भीड़ ने जमकर पथराव शुरू कर दिया। टोल प्लाजा के आसपास खड़े राहगीरों में तोड़फोड़ कर डाली।

22 दिन से धरना दे रहे थे पांच ग्राम पंचायतों के लोग
- जानकारी के अनुसार जयपुर ग्रामीण जिले के क्षेत्र में स्टेट हाइवे पर चौमूं-चंदवाजी टोल प्लाजा है।

- यहां पांच गांवों की पंचायत जिनमें चीथवाड़ी, जाटावाली, कुशलपुरा, विजयसिंहपुरा और फतेहपुरा के स्थानीय ग्रामीण पिछले 22 दिन से चौमूं चंदवाजी टोल प्लाजा को अन्यत्र शिफ्ट करने की मांग को लेकर धरने पर बैठे थे।

- उनकी मांग थी कि घनी आबादी में संचालित इस टोल प्लाजा के कर्मचारी उन्हें आए दिन परेशान करते हैं। साथ ही, उनके आवागमन और घरेलू व्यवसाय में उपयोगी व्यावसायिक गाडिय़ों से टोल वसूला जाता है, उसे माफ किया जाए। इसी विरोध प्रदर्शन में किसान नेता अमराराम ने भी समर्थन दे दिया।

आज सुबह 11 बजे का अल्टीमेटम, 12 बजे किया कूच
- धरना-प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने उनकी मांगों को मानने के लिए प्रशासन को रविवार सुबह 11 बजे तक का अल्टीमेटम दिया गया।

- रविवार को दोपहर करीब 12 बजे किसान नेता अमराराम की अगुवाई में सैंकड़ों की संख्या में लोग टोल प्लाजा की तरफ बढ़ रहे थे। तब एसीपी गोविंदगढ़ दीपक कुमार और एसडीएम प्रियव्रत सिंह ने ग्रामीणों से समझाईश कर उन्हें रोकने का प्रयास किया।

उग्र भीड़ ने शुरू कर दिया पथराव, पुलिस ने आंसू गैस दागीं
- इससे पुलिस और ग्रामीण आमने सामने हो गए। पुलिस ने भीड़ को खदेडऩे के लिए लाठियां भांजी तो उग्र भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। वाहनों में तोडफ़ोड़ शुरु कर दी। हिंसक भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोडऩे पड़े। इस सब के दौरान दो प्रदर्शनकारी घायल हो गए।

पुलिस और प्रदर्शनकारी हुए चोटिल
- पथराव में एसीपी गोविंदगढ़ दीपक शर्मा और जाटावाली पुलिस चौकी प्रभारी मंजू चौधरी के चोटिल होने की जानकारी है। मामले में पुलिस ने ग्रामीणों के धरना प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे किसान नेता अमराराम को हिरासत में ले लिया। करीब एक घंटे चले उपद्रव के बाद पुलिस ने भीड़ को हाइवे से हटा दिया। फिलहाल काफी पुलिस बल मौजूद है और शांति व्यवस्था बहाल कर दी गई है।


फोटो : जेपी डागर