--Advertisement--

मंदिरों में उमड़े भक्त, दान पुण्य के साथ की दिन की शुरूआत

मंदिरों में उमड़े भक्त, दान पुण्य के साथ की दिन की शुरूआत

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 10:48 AM IST
गोविंद देवजी मंदिर को पतंगों स गोविंद देवजी मंदिर को पतंगों स


जयपुर। दान-पुण्य का महापर्व मकर संक्रांति रविवार को पूरे जोश के साथ मनाया जा रहा है। लोगों ने अपने दिन की शुरूआत मंदिरों में भगवान के दर्शन के साथ की। जयपुर के अराध्य देव गोविंद देव जी मंदिर में लोगों ने ठाकुर जी को पतंगें भेंट की। वहीं जयपुर के गलताजी तथा पुष्कर में लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई। जानिए और इस बारे में ...

- राजस्थान में संडे की सुबह बड़ी संख्या में श्रद्धालु मंदिरों में उमड़ पड़े। जयपुर के गोविंद देवजी मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त पहुंचे। भक्तों ने अपने दिन की शुरूआत ठाकुरजी के दर्शन के साथ की। चूंकि यह पतंगों का त्योहार भी है इसलिए मंदिर को पतंगों से सजाया गया। भक्तों ने मंदिर में खिचड़ी, तिल-गुड़ के लड्डू भेंट किए। वहीं मंदिरों के बाहर गायों को हरा चारा डाला। मकर संक्रांति बेहद शुभ दिन माना जाता है इसलिए लोग अपने दिन की शुरूआत शुभ काम के साथ करते हैं।

ठाकुर जी ने भी उड़ाई पतंग, गोविंद देवजी को सजाया पतंगों से
- जयपुर के गोविंददेवजी मंदिर में ठाकुर जी की झांकी सजाई गई। इसमें ठाकुरजी पतंग उड़ा रहे हैं और राधा ने चरखी थाम रखी है। इसमें खास यह है कि जहां पतंग सोने की है वहीं चरखी चांदी की है। यह भक्तों में आकर्षण का केंद्र रहीं। वहीं मंदिर के प्रांगड़ को पतंगों से सजाया गया। भक्तों ने भी ठाकुर जी को पतंगें भेंट कीं।

पुष्कर में लगाई आस्था की डुबकी

- पुष्कर में भक्तों ने सरोवर में डुबकी लगाई। हजारों की संख्या में लोग पुष्कर सरोवर में डुबकी लगाने पहुंचे।

यह किया जाता है दान पुण्य

- ऐसी मान्यता है कि मकर संक्रांति पर जौ का दान शुभ होता है। जैसे होली पर गेहूं शुभ होता है।
- जौ की तासीर गर्म होती है इसलिए यह शुभ होने के साथ-साथ सेहत के लिए अच्छा माना जाता है।
- लोग खिचड़ी, तिल-गुड़ के लड्डू भी भेंट करते हैं। तिल व गुड़ दोनों की तासीर गर्म होती है। सर्दियों में यह सेहत के लिए अच्छा होता है। इसलिए मंदिरों में इसका भोग लगाया जाता है तथा गरीबों में दान किया जाता है।

मौसम में भी होता है बदलाव
- मकर संक्रांति पर मौसम में भी बदलाव होता है। इसलिए भगवान सूर्य को अर्ध्य देकर दिन की शुरूआत की जाती है।
- आज के दिन ही सूर्य का मकर राशि में प्रवेश होता है। दोपहर 1.47 बजे सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे। वहीं पुण्यकाल सुबह 7.21 बजे शुरू हो गया जो दिन भर चलेगा। यानी पूरे दिन भर दान-पुण्य किया जा सकेगा।

वो काटा वो काटा गूंजता रहा

- पतंगबाजी के लिए मशहूर मकर संक्रांति का पर्व पूरे राजस्थान में धूमधाम से मनाया जा रहा है। सुबह से ही लोग छतों पर चढ़ गए। लोगों ने छतों पर म्यूजिक सिस्टम शुरू कर दिए। वहीं सूरज निकलते ही वो काटा-वो काटा का दौर शुरू हो गया।

फोटो : निरंजन चौहान

X
गोविंद देवजी मंदिर को पतंगों सगोविंद देवजी मंदिर को पतंगों स
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..