--Advertisement--

लड़कियों से डॉक्टर की गंदी हरकतें तो कहीं लाइव कैमरे में कैद हुई मौत

लड़कियों से डॉक्टर की गंदी हरकतें तो कहीं लाइव कैमरे में कैद हुई मौत

Dainik Bhaskar

Dec 28, 2017, 04:14 PM IST
जोधपुर में ही डॉक्टर ऑपरेशन थि जोधपुर में ही डॉक्टर ऑपरेशन थि

जयपुर. साल 2017 वायरल खबरों के नाम रहा। इस साल राजस्थान में कई ऐसी घटनाएं हुईं जिनकी खबर पहले वायरल हुए वीडियो से मिली। जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ। जिसमें एक तरफ कहीं डॉक्टर जैसा प्रोफेशन शर्मसार हुआ तो किसी ने खुद मर्डर कर उसका वीडियो बनाया। DainikBhaskar.com आज ऐसे ही कुछ वायरल वीडियो की कहानी बताने जा रहा है।

ऑपरेशन के दौरान डॉक्टरों के झगड़े पर HC ने लिया संज्ञान, बच्ची की हो गई थी मौत


- जोधपुर के एक हॉस्पिटल के ऑपरेशन थिएटर (OT) में 2 डॉक्टर आपस में उलझने का मामला सामने आया था । इस दौरान प्रेग्नेंट लेडी की सिजेरियन डिलिवरी में देरी भी हुई थी। लिहाजा पैदा हुई नवजात बच्ची ने धड़कन (हार्ट बीट) धीमी होने की वजह से दम तोड़ दिया था। मामला उम्मेद हॉस्पिटल का था। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ था। हाईकोर्ट ने मामले पर संज्ञान लेते हुए हॉस्पिटल से रिपोर्ट तलब किया था है।
- घटना के मुताबिक, रातानाडा की रहने वाली अनीता डिलीवरी के लिए उम्मेद हॉस्पिटल आईं थी। उन्हें पहले लेबर रूम ले जाया गया, जहां डॉ. इंद्रा भाटी ने उन्हें चेक किया तो पेट में बच्चे की धड़कन धीमी पाई थी।
- इस पर अनीता को तुरंत सिजेरियन डिलिवरी के लिए ऑपरेशन थिएटर (OT) में भेजा गया था। गर्भवती और बच्चे की जान बचाने के लिए तुरंत ऑपरेशन करना जरूरी था। ऑपरेशन थिएटर में एक टेबल पर गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. अशोक नैनीवाल एक दूसरी महिला का ऑपरेशन कर रहे थे।
- अनीता को दूसरी टेबल पर लाया गया। यहां एनेस्थिसिस्ट और ओटी इंचार्ज डॉ. एमएल टाक बच्चे की धड़कन जांचने के लिए दूसरे डॉक्टर से कह रहे थे। इसी दौरान डॉ. अशोक भड़क गए और डॉ. टाक पर जोर-जोर से चिल्लाने लगे थे।
- इस पर डॉ. टाक भी अनीता को छोड़कर डॉ. अशोक के सामने आ गए। दोनों के बीच तू-तू-मैं-मैं शुरू हो गई थी। वहां मौजूद नर्सिंग स्टाफ ने दोनों डॉक्टर्स को समझाने की बहुत कोशिश की, पर वे नहीं रुके। बाद में अनिता के सिजेरियन से हुई नवजात बच्ची ने कुछ ही देर में दम तोड़ दिया था।

स्टाफ मेंबर ने बनाया वीडियो

- ऑपरेशन थिएटर में ही किसी स्टाफ मेंबर ने मोबाइल से घटना का वीडियो भी बना लिया था। इस वीडियो के वायरल होते ही अफरातफरी मच गई। मामला सामने आया तो राज्य सरकार के आदेश पर डॉ. अशोक नैनीवाल को एपीओ कर दिया गया, जबकि डाॅ. टाक पर एक्शन के लिए कार्मिक विभाग (personnel department) में फाइल भेजी गई थी।


X
जोधपुर में ही डॉक्टर ऑपरेशन थिजोधपुर में ही डॉक्टर ऑपरेशन थि
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..