--Advertisement--

बचपन से बंदूकों की शौकीन एक राजकुमारी, सिर्फ 7 साल की उम्र में किया ऐसा कारनामा

बचपन से बंदूकों की शौकीन एक राजकुमारी, सिर्फ 7 साल की उम्र में किया ऐसा कारनामा

Dainik Bhaskar

Dec 18, 2017, 11:59 AM IST
राजस्थान के बीकानेर राजघराने राजस्थान के बीकानेर राजघराने

बीकानेर. DainikBhaskar.com अपनी सीरीज जाने राजस्थान में बात कर रहा है बीकानेर राजपरिवार की राजश्री कुमारी की। कई किताबें लिख चुकी राजश्री बचपन में शिकार करने के बाद पेटा से जुड़ गई। पेटा की वजह से वे अक्सर चर्चा में रहती हैं। महल को लग्जरी होटल में बदला...


- करणी सिंह ने 1950 में बीकानेर की कमान संभाली। जिसके बाद सन् 1953 में राजकुमारी राजश्री का जन्म हुआ। उनकी मां का नाम सुशीला कुमारी था। राजश्री ने दिल्ली के एक कॉन्वेंट स्कूल से पढ़ाई पूरी करने के बाद लेडी श्रीराम कॉलेज से ग्रैजुएशन पूरी की। बाद में उन्होंने बीकानेर राजघराने की कमान संभाली। उन्होंने अपने पुश्तैनी महल लालगढ़ को फिर से एक लग्जरी होटल में रेनोवेट करवाया।
- रैनोवेशन के साथ-साथ उन्होंने लालगढ़ होटल में ही श्री सदुल म्यूजियम भी बनाया। अपनी इस सक्सेस पर उन्होंने एक किताब (दी लालगढ़ पैलेस - बीकानेर के महाराजा का घर) भी लिखी है। इस किताब को सन् 2010 में लंदन में लॉन्च किया गया था।

16 साल की उम्र में अर्जुन अवॉर्ड मिला


- राजश्री को बचपन से ही शिकार का शौक था। उन्हें बचपन से ही बंदूक चलाने की ट्रेनिंग मिली। इस दौरान उन्होंने चीते से लेकर जंगली सुअर तक कई जानवरों का शिकार किया। जिसके बाद उन्होंने कई कॉम्पिटीशन में हिस्सा लिया। देश के लिए मेडल भी जीते। महज 7 साल की उम्र में उन्होंने शूटिंग में पहला नेशनल अवॉर्ड जीता। बता दें कि राजश्री को सिर्फ महज 16 साल की उम्र में अर्जुन अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया। सन् 2010 के कॉमनवेल्थ गेम्स में क्वीन की मशाल बीकानेर से भी निकली थी, इस दौरान राजश्री भी इस इवेंट का हिस्सा बनी थीं।

बीकानेर कॉलेज का नाम चेंज कराया


- अब वे अपने पिता के नाम पर कई ट्रस्ट चलाती हैं। उन्होंने ही बीकानेर यूनिवर्सिटी का नाम अपने ग्रेट ग्रांड फादर गंगा सिंह जी के नाम पर रखवाया। उनके होटल लालगढ़ को हालही में एक अमेरिकन कंपनी द्वारा एक्सिलैंस अवॉर्ड भी दिया गया।

X
राजस्थान के बीकानेर राजघराने राजस्थान के बीकानेर राजघराने
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..