--Advertisement--

इस बिजनेसमैन की थीं 6 पत्नियां और 18 बच्चे, बेटी बोली- नाम तक याद नहीं रहते थे

इस बिजनेसमैन की थीं 6 पत्नियां और 18 बच्चे, बेटी बोली- नाम तक याद नहीं रहते थे

Dainik Bhaskar

Jan 20, 2018, 12:07 PM IST
नीलिमा डालमिया ने उदयपुर में ए नीलिमा डालमिया ने उदयपुर में ए

उदयपुर. प्रसिद्ध लेखिका नीलिमा डालमिया शुक्रवार को प्रभा खेतान फाउंडेशन के सहयोग से होटल रेडिसन ब्लू में हुए कार्यक्रम कलम में अपने पिता आर के डालमिया और किताब द सीक्रेट डायरी ऑफ कस्तूरबा को लेकर लोगों से रूबरू हुईं। यहां उन्होंने अपने पिता के जीवन से संबंधित कई खुलासे किए। जानें नीलिमा ने क्या बताया...


- डालमिया ने अपने पिता प्रसिद्ध उद्योगपति और राजस्थान में चिड़ावा के मूलनिवासी आरके डालमिया को भी कठघरे में खड़ा कर दिया।
- वे बोलीं : मेरे पिता ने छह महिलाओं से शादियां कीं और 18 बच्चे पैदा किए। वे अपने बच्चों के नाम तक भूल जाते थे।
- पत्नियों को अलग-अलग घरों में रखते थे और पते याद नहीं रहने से वे घरों के नंबर लगाकर रखते थे और बारी-बारी से उनके पास जाया करते थे।
- इसके आगे वे बोलीं : मैं गांधी को महान नहीं मानती। वे भले राष्ट्रपिता कहे जाएं, लेकिन उन्होंने परिवार और बच्चों के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने बेटे हरिलाल और पत्नी कस्तूरबा को कभी महत्व नहीं दिया।
- एक बार हरि ने दो सुंदर लड़कियों के बालों को निहारा तो गांधी ने बेटे को 12 साल तक लड़कियों से नहीं मिलने की सजा दे दी और दोनों लड़कियों की चोटियां कटवा दीं। उन्होंने कहा कि ये सुंदर बाल ही लड़के के मन में पाप का कारण बने हैं।

गांधी की बातें ब्रह्मचर्य की..आैर घिरे रहे महिलाओं से


- डालमिया ने कहा कि गांधी ने पूरे जीवन ब्रह्मचर्य व्रत का संकल्प किया था, लेकिन जिन्दगी भर वे महिलाओं से घिरे रहे।
- किताब को लेकर उन्होंने कहा कि किताब लिखते समय मुझे ऐसा लगा जैसे मानो यह मेरे माता-पिता से जुड़ी कहानी हो।
- कस्तूरबा और उनकी मां दिनेश नंदिनी डालमिया की जिंदगी में उन्हें समानता नजर आती है। क्योंकि उनकी मां को भी परिवार में सही दर्जा नहीं मिला।
- डालमिया ने कहा कि द टाइम्स ग्रुप के मालिक रहे मेरे पिता आरके डालमिया ने छह शादियां की थी, उनमें नीलिमा 18 बच्चों में से एक थी।
- पिता को अपने बच्चों के नाम तक नहीं पता होते थे, वे बच्चों को नंबर से बुलाते थे। जो पत्नी उनको ज्यादा प्रिय होती थी उनके बच्चों को ज्यादा अच्छे से रखते थे। ऐसे में उनके साथ भी सौतेला व्यवहार होता था।
- उन्होंने कहा कि उनके पिता और गांधी दुनिया के लिए बड़े आदमी थे लेकिन अपनी पत्नी, बच्चों से सही व्यवहार नहीं करते थे। उन्होंने कहा कि वह कस्तूरबा की जिन्दगी से लोगों को रूबरू करवाना चाहती है, ताकि कस्तूरबा के बारे में लोग जान सके।

X
नीलिमा डालमिया ने उदयपुर में एनीलिमा डालमिया ने उदयपुर में ए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..