--Advertisement--

जनवरी 2016 से सातवां वेतन लागू न करने के विरोध में कर्मचारियों की आक्रोश - सरकार के चौथी वर्षगांठ पर प्रदेश भर के जिला मुख्यालय पर कर्मचारी करेंगे विरोध प्रदर्शन, भेजेंगे ज्ञापन

जनवरी 2016 से सातवां वेतन लागू न करने के विरोध में कर्मचारियों की आक्रोश - सरकार के चौथी वर्षगांठ पर प्रदेश भर के जिला मुख्यालय पर कर्मचारी करेंगे विरोध प्रदर्शन, भेजेंगे ज्ञापन

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 06:14 PM IST
रैली में नेताओं ने कहा कि उनकी रैली में नेताओं ने कहा कि उनकी

जयपुर। राजस्थान सरकार का एक जनवरी 2017 से सातवें वेतनमान देने की घोषणा करने का दाव काम नहीं आया। हजारों की संख्या में कर्मचारियों ने रविवार को रामबाग से लेकर सिविल लाइन फाटक तक आक्रोश रैली निकाली। रैली में एक जनवरी 2016 से सातवें वेतनमान लागू करने की मांग की गई। इसके अलावा कर्मचारी कुछ भी मानने को तैयार नहीं है। इतना ही नहीं बल्कि राज्य सरकार के चार साल पूरे होने पर कर्मचारी प्रदेशभर में 13 दिसंबर को धरना-प्रदर्शन करेंगे। जानिए और इस बारे में ....


- गौरतलब है कि राज्य सरकार की ओर से शनिवार को ही राज्य कर्मचारियों एवं पेशनभोगी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के परिलाभ 01 जनवरी 2016 से 31 दिसम्बर 2016 तक काल्पनिक एवं 01 जनवरी 2017 से एरियर का भुगतान तीन किश्तों में देने की ऐलान किया गया था। इसके बावजूद रविवार को बड़ी संख्या में कर्मचारियों ने आक्रोश रैली निकाली गई।

- सिविल लाइन फाटक पर धरना देकर कर्मचारी बैठे। यहां जमकर राज्य सरकार के खिलाफ कर्मचारियों ने अपनी भड़ास निकाली। उनका कहना है कि जब तक कर्मचारियों की मांगे पूरी नहीं हो जातीं तब तक कर्मचारी आंदोलनरत रहेंगे।

- उनकी मांग है कि सातवें वेतनमान को एक जवरी 2016 से और केंद्र के समान पे मैट्रिक्स के अनुसार वेतन का भुगतान किया जाए। इसके अलावा अन्य कई मांगें शामिल हैं। कर्मचारी नेताओं ने बताया कि सरकार की ओर से उनकी मांगे स्वीकार न किए जाने पर आठ दिसंबर को सामूहिक अवकाश रखा गया है।

- 11 दिसंबर से 48 घंटे का कर्मचारी अामरण अनशन करेंगे वहीं 12 दिसंबर से कर्मचारी प्रदेशभर में पेनडाउन कार्यक्रम करेंगे।

- 13 दिसंबर को राज्य के सभी जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा। कलेक्टर के माध्यम से सीएम को ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा। इस दौरान आयुदान सिंह कविया, गजेंद्र सिंह राठौड़, तेज सिंह राठौड़, सहित प्रदेश भर के कर्मचारी नेता शामिल रहे।

आगे की स्लाइड्स मेंं देखिए और फोटोज

फोटो : राजेश कुमावत