--Advertisement--

प्रदेश के 300 सरकारी स्कूलों को निजी हाथों में सौंपने के विरोध में सड़क पर उतरे शिक्षक

प्रदेश के 300 सरकारी स्कूलों को निजी हाथों में सौंपने के विरोध में सड़क पर उतरे शिक्षक

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 05:53 PM IST
Teachers protest against goverment school privatization

जयपुर. राजस्थान शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) ने सरकारी स्कूलों को पीपीपी मोड पर देने के विरोध में और केंद्र के समान सातवें वेतनमान की मांग को लेकर शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर धरना दिया। धरने में प्रदेश पदाधिकारियों, जिला अध्यक्ष, जिला मंत्री एवं महिला मंत्रियों सहित बड़ी संख्या में शिक्षक शामिल थे। जानें पूरा मामला...

- शिक्षकों को संबोधित करते हुए संगठन के महामंत्री देवलाल गोचर ने कहा कि बार-बार ज्ञापन देने के बाद भी सरकार केंद्र के समान 7वां वेतनमान नहीं दे रही है।

-साथ ही छठे वेतनमान की विसंगति को भी दूर नहीं किया जा रहा है। इससे शिक्षकों में रोष है।

- प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद शर्मा ने कहा कि प्रदेश के 300 विद्यालयों को पीपीपी मोड पर देने का निर्णय कर प्रदेश के शिक्षकों, अभिभावकों, विद्यार्थियों और आम जनता के विरुद्ध कार्य किया है।

- यह राज्य की शिक्षा व्यवस्था को निजी क्षेत्र में देने की योजना का अंग है। संगठन इस जनविरोधी कदम के खिलाफ आंदोलन करता रहेगा।

- धरने को संगठन के संरक्षक राजनारायण शर्मा, संगठन मंत्री महावीर प्रसाद सिंहल, प्रदेश मंत्री रवि आचार्य बीकानेर, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अरविंद व्यास, प्रदेश उपाध्यक्ष देवकीनंदन सुमन, जगदीश चौधरी, नवीन कुमार शर्मा, संपत सिंह, मोहन सिंह भाटी, संजय शर्मा, राजकमल लोहार, महेन्द्र लखारा, राजेश शर्मा, शिवदत्त आर्य, जयमाला पानेरी, डाॅ. अरुणा शर्मा तथा कोषाध्यक्ष अशोक कुमार शर्मा सहित कई शिक्षक नेताओं ने संबोधित किया।

X
Teachers protest against goverment school privatization
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..