--Advertisement--

तीन दिन पहले मौज-मस्ती करने घर से निकले, आखिर ऐसी हालत में लौटी लाशें

तीन दिन पहले मौज-मस्ती करने घर से निकले, आखिर ऐसी हालत में लौटी लाशें

Danik Bhaskar | Dec 18, 2017, 02:29 PM IST

पाली. राजस्थान के पाली में मंडिया रोड-जोधपुर बाईपास पर शनिवार रात तेज रफ्तार कार पलट गई, जिससे कार में सवार एक युवती तथा उसके दोस्त की मौत हो गई तथा 4 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। कार में सवार सभी आपस में दोस्त हैं। वे तीन दिन पहले जयपुर से निकले थे एक दिन माउंट अाबू, दूसरे दिन उदयपुर रूककर पाली आ रहे थे। इस दौरान हादसा हो गया। युवती ने मौके पर ही दम तोड़ा, जबकि शेयर व्यापारी ने जोधपुर में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने इनके परिजनों को भी सूचना दे दी है। जानें पूरा मामला...


- सभी जयपुर से तीन दिन पहले घूमने आए थे, एक दिन माउंट आबू रुके, इसके बाद दूसरे दिन उदयपुर रूककर पाली जा रहे थे, इसी दौरान पुनायता औद्योगिक क्षेत्र की तरफ जाने वाले मार्ग पर हादसा हुआ।
- जानकारी के अनुसार जयपुर की रहने वाली सोनिया राठौड़(35), आशी शर्मा (18) , दीपक (29), तरुण बंसल (26) तथा निशा नेगी (26) आपस में दोस्त है। इनमें तरुण बंसल तथा दीपक कुमार शेयर व्यापारी है। दीपक ने अपना दफ्तर जोधपुर के पावटा सी रोड पर खोल रखा है।
- पुलिस के अनुसार यह लोग जयपुर मिलने के बाद कार से पहले माउंट आबू गए इसके बाद उदयपुर रूककर पाली जा रहे थे। इस दौरान मंडिया रोड जोधपुर बाईपास पर पुनायता औद्योगिक क्षेत्र की तरफ जाने वाले मोड पर पहुंचते ही कार की गति काफी तेज होने के कारण वह अनियंत्रित होकर पलट गई।
- प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कार करीब 10 फीट तक ऊपर उछली, इसके बाद दो बार पलटी खा गई। इस मार्ग से गुजर रहे अन्य वाहन चालकों ने काफी मशक्कत के बाद इन सभी को लहूलुहान स्थिति में बाहर निकाला।
- मामले की जानकारी मिलते ही सदर थाने से पुलिस दल मौके पर पहुंचा। इन सभी को बांगड़ अस्पताल लाया गया। इसमें निशा नेगी ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं चिंताजनक हालत में तरुण बंसल को जोधपुर रेफर किया गया, जहां उसकी भी मौत हो गई।


आशी 12 वीं छात्रा, तरुण की दोस्त थी, उसके बुलावे पर आई

- पुलिस का कहना है कि जयपुर के नामचीन स्कूल में 12 वीं कक्षा में अध्ययनरत आशी शर्मा पुत्री तरुणमोहन जयपुर की रहने वाली है। उसके पिता भी पुलिस में सब इंस्पेक्टर पद पर कार्यरत है। उसकी तरुण बंसल से काफी समय से दोस्ती थी। उसके कहने पर ही वह साथ आई थी। दीपक के साथ ही तरुण भी शेयर बाजार में खरीद-फरोख्त करता था। पुलिस ने दोनों शवों को अपने कब्जे में ले लिया है। दोनों का रविवार को पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंपा जाएगा।

फोटोज- ​मनीष शर्मा