--Advertisement--

बिफरे अध्यक्ष, बोले उठाकर बाहर फिंकवा दूंगा - v

बिफरे अध्यक्ष, बोले उठाकर बाहर फिंकवा दूंगा - v

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 04:07 PM IST
बजट भाषण के दौरान नेता प्रतिपक बजट भाषण के दौरान नेता प्रतिपक

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सोमवार को राज्य विधानसभा में राज्य का बजट पेश किया।बजट भाषण के दौरान विपक्षी सदस्यों ने शोर-शराबा किया। विपक्ष के व्यवधान से अध्यक्ष कैलाश मेघवाल बिफर गए। नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के व्यवधान को निंदनीय करार दे दिया। वहीं, निर्दलीय हनुमान बेनीवाल को तो मार्शल के जरिए बाहर फिकवाने तक की चेतावनी दे डाली। हालांकि, बजट भाषण के शुरूआत एवं किसानों की कर्जमाफी के दौरान विपक्षी सदस्य थोड़े उत्तेजित नजर आए। जानिए और इस बारे में ...

- व्यवधान के चलते मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को एक बार अपनी सीट पर बैठना भी पड़ा। कई बार सीएम ने सीधे विपक्षी सदस्यों को जबाव भी दिया। कॉलेजों की घोषणा करते समय सीएम ने कहा कि पिछली सरकार की तरह स्कूलों में कॉलेज नहीं खोलेंगे।

एक मिनट तक बजती रही तालिया
- मुख्यमंत्री जैसे बजट भाषण के लिए सीट से खड़ी हुईं सत्तापक्ष के सदस्यों ने मेजें थपथपाना शुरू कर दिया। करीब एक मिनट तक वे मेजें थपथपाते रहे। इसी दौरान नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी अपनी सीट पर खड़े हो गए और कुछ बोलने लगे। कुछ भी सुनाई नहीं दे रहा था क्योंकि सरकार सत्तापक्ष के सदस्य लगातार मेजें थपथपा रहे थे।

- अध्यक्ष उन्हें बैठने का आग्रह करते रहे। बावजूद डूडी तो बैठे नहीं और सचेतक गोविंद सिंह डोटासरा भी खड़े होकर बोलने लगे।

सीएम अपनी सीट पर बैठ गईं

- अध्यक्ष ने नेता प्रतिपक्ष के यूं खड़े होकर बोलने को निंदनीय करार दिया। उन्होंने यहां तक कहा कि सदन को मजाक बना दिया गया है। सब बैठ जाइए अन्यथा बाहर निकलवा दूंगा। करीब 4 मिनट के हंगामे के बाद सीएम ने बोलना शुरू किया। हंगामे के दौरान सीएम अपनी सीट पर जाकर बैठ गई थीं। मुख्यमंत्री की हर घोषणा पर सत्तापक्ष के सदस्य मेजें थपथपाते रहे।

बेनीवाल बाहर फिकवा दूंगा
- मुख्यमंत्री ने जैसे ही सदन में किसानों के कर्ज माफी की घोषणा की। कांग्रेसी सदस्य एक बार फिर खड़े होकर संपूर्ण कर्जमाफी का मसला उठाने लगे। इस बीच निर्दलीय हनुमान बेनीवाल व बसपा के मनोज न्यांगली भी खड़े होकर जोर-जोर से बोलने लगे। टोका-टाकी के वजह से सीएम चुप रहीं। अध्यक्ष ने सभी सदस्यों से बैठने के लिए कहा, लेकिन जब व्यवधान जारी रहा तो अध्यक्ष एक बार फिर आवेश में आ गए। उन्होंने बेनीवाल को मार्शल के जरिए बाहर फिंकवाने तक की चेतावनी दे डाली। इसके बाद मामला शांत हो गया।

सीएम का विपक्ष पर पलटवार
- किसानों के कर्ज माफी की घोषणा के दौरान डूडी एवं डोटासरा खड़े होकर कुछ बोलना चाह रहे थे। इसी दौरान सीएम ने कहा कि अपको भी मौका मिला था, लेकिन आपने कुछ नहीं किया। कॉलेजों की घोषणा के दौरान सीएम ने कहा, विधायक फंड एवं भामाशाहों की मदद से भवन निर्माण कराए जाएंगे। कांग्रेस राज की तरह नहीं कि सीनियर हायर सैकंडरी स्कूलों में कॉलेज खोल दिए।


फोटो : योगेंद्र गुप्ता

X
बजट भाषण के दौरान नेता प्रतिपकबजट भाषण के दौरान नेता प्रतिपक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..