जयपुर

--Advertisement--

ख्वाजा के आस्तां पर लहराया उर्स का परचम, विधिवत शुरूआत रजब के चांद के साथ होगी

ख्वाजा के आस्तां पर लहराया उर्स का परचम, विधिवत शुरूआत रजब के चांद के साथ होगी

Danik Bhaskar

Mar 14, 2018, 04:03 PM IST

अजमेर. सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के बुलंद दरवाजे पर बुधवार शाम को उर्स का झंडा चढ़ाने के साथ ही 806वें उर्स की अनौपचारिक शुरुआत हो गई। झंडे की रस्म में खासी तादाद में आशिकाने ख्वाजा शरीक हुए। गाजेबाजे और सूफियाना कलामों के बीच झंडे को दरगाह लाया गया और तोप के 25 गोले दाग कर कर सलामी दी गई। उर्स की विधिवत शुरूआत रजब का चांद दिखाई देने पर 19 मार्च से होगी। जानें क्या रहेगा खास...

- परंपरा के मुताबिक इस्लामी कैलेंडर के जमादिउस्सानी महीने की 25 तारीख को अस्र की नमाज के बाद दरगाह गेस्ट हाउस से शान औ शौकत के साथ जुलूस की शुरूआत हुई।

- मुतवल्ली सैयद अबरार चिश्ती की सदारत और फखरुद्दीन गौरी की अगुवाई में निकले जुलूस में भीलवाड़ा के गौरी परिवार के सदस्य झंडा लिए हुए थे।

- राजस्थान पुलिस के बैंडवादक भर दो झोली मेरी या मोहम्मद.... समेत विभिन्न सूफियाना कलामों की स्वर लहरियां बिखेर रहे थे।

- दरगाह की शाही कव्वाल चौकियों के सदस्य असरार अहमद की अगुवाई में गरीब नवाज की शान में मनकबत के नजराने पेश करते हुए चल रहे थे।

- लंगर खाना गली, दरगाह बाजार होते हुए जुलूस रोशनी के वक्त से पूर्व बुलंद दरवाजा पहुंचा।

- इस दौरान जुलूस की शुरुआत के साथ ही बड़े पीर साहब की पहाड़ी से तोप के गोले दागे जा रहे थे।
- दरगाह परिसर जायरीन से खचाखच भरा हुआ था। लंगर खाना व महफिल खाना की छतों के साथ ही आसपास के हुजरों की छतों पर जायरीन नजर आ रहे थे।

- रोशनी के वक्त से पूर्व माैरूसी अमले के लोगों ने झंडे काे चढ़ाया। इसके साथ ही उर्स की अनौपचारिक शुरुआत हो गई। बाद में गौरी परिवार के सदस्यों ने आस्ताना शरीफ पहुंच कर हाजिरी दी। जुलूस में दरगाह कमेटी सदर शेख अलीम, अंजुमन सैयदजादगान के सदर मोईन हुसैन अंगाराशाह, सचिव वाहिद हुसैन अंगाराशाह, सैयद अब्दुल गनी गुर्देजी, सैयद फखर काजमी, अंजुमन शेखजादगान के सदर हाजी जर्रार अहमद चिश्ती, सचिव एस. माजिद चिश्ती, पूर्व विधायक हाजी कैयूम खान, सहायक नाजिम मोहम्मद आदिल, उत्तर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष आरिफ हुसैन, सैयद अफशान चिश्ती समेत कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। प्रशासन ने भी विशेष इंतजाम किए थे।

फोटोज- आरिफ कुरैशी

Click to listen..