--Advertisement--

न्यूज हिंदी

न्यूज हिंदी

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 03:09 PM IST

जयपुर. पीएम मोदी के दौरे पर सीएम वसुंधरा राजे ने संबोधित करते हुए पीएम मोदी को त्रिपुर, मेघालय और नागालैंड में जीत की बधाई दी। जिसकें उन्होंने कहा कि बेटियां पढ़ेंगी तो उसका घर ओर प्रदेश सशक्त होगा। पढ़ें सीएम ने क्या कहा...

- सीएम वसुंधरा राजे ने सभी का अभिनंदन करते हुए अपने संबोधन की शुरुआत की। जिसके साथ उन्होंने पीएम मोदी का स्वागत किया।

- सीएम ने पीएम मोदी को त्रिपूरा, मेघालय और नागालैंड में जीत की बधाई भी दी।
- उन्होंने कहा की पीएम आज दो बड़ी सौगात देने के लिए आए हैं। जिसमें पहली दुनिया पर को न्यूट्रीशन प्रोग्राम की शुरुआत होगी। वहीं दूसरी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का विस्तार हो रहा।
- गंगानगर, में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का आटवां फेरा लिया जाता है।
- सीएम ने कहा कि हमारी बेटी को हम अपनी अमानत मानते हैं',बेटी पढ़ेगी तो उसका घर और प्रदेश सशक्त होगा।
- सीएम वसुंधरा ने कहा कि झुंझुनू से नेशनल पोषण मिशन का हो रहा शुभारंभ हो रहा है। देश के 641 जिलों में इस अभियान की शुरुआत हो रही।
- सीएम वसुंधरा ने अपने संबोधन में उदयपुर की महिला हैंडपंप मैकेनिक मीराबाई, जयपुर की महिला कुली मंजू और धौलपुर की आदिवासी महिलाओं के काम की तारीफ भी की।
- मैधावी बालिकाओं को 1 लाख तक की राशी दे रहे हैं।
- सीएम ने पीएम के अपना बच्चा अपना विकास कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि मन की बात का सराहा।

सूर्योदय से सूर्यास्त तक भाजपा का झंडा लहरा रहा है- वसुंधरा राजे

- सीएम ने कहा कि आज सूर्योदय से सूर्यास्त तक भाजपा का झंडा लहरा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि ये हमारे लिए अत्यंत्र गर्व और हर्ष का दिन है।
- सीएम ने अफसरों की तारीफ करते हुए कहा कि हमारे कलैक्टर्स ने बच्चियों को गोद लिया है। मैनें भी 300 से अधिक बेटियोंको गोद लिया है।
- सीएम ने आगे कहा कि राजश्री और मद्माषी योजनाओं के तहत - बच्चियों को लैपटॉप, स्कूटी और साइकिल दी जा रही है।
- सीएम ने कही कि हर क्षेत्र में महिलाएं आगे बढ़ रही हैं। श्रीगंगानगर में आठ फेरे लिए जाते हैं। आठवां फेरा बेटी बचाने का लिया जा रहा है।

मेनका गांधी बोलीं बेटियों की संख्या बढ़ी

- मेनका गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि उनकी सरकार ने 100 जिले में बेटी बचाओ कार्यक्रम शुरू किया।
- झुंझुनू में जहां 800 से कम लड़कियां थी। वहां तीन साल में 900 से ऊपर हो गई हैं। इसका पूरा श्रेय पीएम को चादा है।
- देश में आज 161 जिलों में बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं सफल हुआ है।
- महिलाओं के लिए ये अकेला कार्यक्रम नहीं है। महिला सरपंच की ट्रेनिंग पूरे देश में दी जा रही है।
- 200 ऐसे सेंटर बनाए गए हैं जहां पीड़ित महिलाएं जा सकती है। 1 लाख महिलाओं ने इन सेंटरों को इस्तेमाल किया है।
- वृंगानन में विधवाओं के लिए शेल्टर होम बना रहे हैं। वाराणसी में भी ऐसा सेंटर बना रहे हैं।
- हमारे मंत्रालय के प्रयास से 18 से कम की शादी में कमी आई है। जो 47 से कम होकर 20 फीसदी रह गया है।