--Advertisement--

उपराष्ट्रपति बोले, संस्थान की उन्नति में पूर्व छात्रों का भी योगदान

उपराष्ट्रपति बोले, संस्थान की उन्नति में पूर्व छात्रों का भी योगदान

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 02:39 PM IST
वनस्थली विद्यापीठ के दीक्षां वनस्थली विद्यापीठ के दीक्षां

निवाई (टोंक)। एक यूनिवर्सिटी केवल अपने वर्तमान स्टूडेंट्स के कारण ही ऊंचाइयां नहीं छूती बल्कि पूर्व स्टूडेंट्स के विभिन्न क्षेत्रों में सफलतापूर्वक कार्य करने से श्रेष्ठता की ओर बढ़ती है। यह बात उपराष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू ने रविवार को वनस्थली विद्यापीठ के 34वें दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में कही। जानिए और क्या बोले उपराष्ट्रपति ...

- नायडू ने स्टूडेंट्स का आह्वान करते हुए कहा कि मैं आशा करता हूं कि आप सभी ऊंचाइयों को छूने के साथ न केवल अपनी मातृ संस्था की सफलता में योगदान देंगे बल्कि अपने समाज, अपने राष्ट्र व संपूर्ण विश्व को कल्याण के रास्ते पर ले जाएंगे।
- वनस्थली विद्यापीठ की प्रशंसा में उन्होंने कहा, मुझे मालूम है कि यहां की लाइब्रेरी में दुर्लभ पुस्तकें उपलब्ध हैं। डिजिटलाइजेशन कर इन पुस्तकों को संरक्षित किया गया है। इस परिसर में स्पष्ट रूप से डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया और क्लीन इंडिया का मिश्रण दिखाई देता है।
- उप राष्ट्रपति ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में यह ऐसी सशक्त शिक्षण संस्था के रूप में उभरा है जिसने अपने स्टूडेंट्स को जीवन में विभिन्न भूमिकाएं बखूबी निभाने के लिए तैयार किया है। शिक्षण संस्थानों की भीड़ में वनस्थली विद्यापीठ ने एक अलग मुकाम हासिल किया है और न केवल देश में अपितु विदेशों में भी ख्याति अर्जित की है।
- उन्होंने कहा, विश्व में महिलाओं की सबसे बड़ी आवासीय शिक्षण संस्था के दीक्षांत समारोह में भाग लेना मेरे लिए प्रसन्नता का विषय है।

उपाधियां व गोल्ड मैडल दिए
- दीक्षांत समारोह में विद्यापीठ के विभिन्न संकायों की कुल 3843 छात्राओंं को विभिन्न उपाधियां एवं 99 छात्राओंं को गोल्ड मैडल प्रदान किए गए।

संस्था का किया अवलोकन
- इससे पहले उप राष्ट्रपति का विद्यापीठ के स्वागत द्वार पर वनस्थली परिवार के सदस्यों ने स्वागत किया। छात्राओं के बैंड की सलामी के बाद स्वागत गान के द्वारा उपराष्ट्रपति का अभिनंदन किया गया। इस दौरान नायडू ने वनस्थली विद्यापीठ में श्री शांताबाई शिक्षा कुटीर व संस्थापकों के निवास स्थान गांधी घर का अवलोकन किया। इसके बाद राष्ट्रीय ध्वज फहराया एवं सेवादल की छात्राओं की परेड का निरीक्षण किया। छात्राओं ने मार्च पास्ट की सलामी दी।
- इससे पहले उप राष्ट्रपति हेलिकॉप्टर से यहां पहुंचे। विद्यापीठ के हेलिपैड पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी तथा सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया, विद्यापीठ की अध्यक्ष प्रो. चित्रा पुरोहित, उपाध्यक्ष प्रो सिद्धार्थ शास्त्री एवं कुलपति प्रो आदित्य शास्त्री ने उनका स्वागत किया।

- कार्यक्रम में राज्य के उधोग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी, सांसद सुखवीर सिंह जौनपुरिया, विधायक राजेन्द्र गूजर, जिला प्रमुख सत्य नारायण चौधरी, नगर परिषद सभापति लक्ष्मी जैन, पालिका अध्यक्ष राजकुमारी शर्मा सहित संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना, आईजी मालिनी अग्रवाल, कलेक्टर सूबे सिंह यादव, एसपी प्रीति जैन सहित कई अधिकारी एवम कई छात्राएं मौजूद रहीं।

आगे की स्लाइड्स में देखिए और फोटोज

फोटो : विनोद शर्मा, असलम


X
वनस्थली विद्यापीठ के दीक्षांवनस्थली विद्यापीठ के दीक्षां
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..