Hindi News »Rajasthan News »Jaipur News» Bhagwat Inaugurates Sewa Bharti Bhawan In Jaipur

भागवत बोले परोपकार करना मनुष्य का स्वभाव

भागवत बोले परोपकार करना मनुष्य का स्वभाव

Aadi Dev Bharadwaj | Last Modified - Nov 05, 2017, 11:00 AM IST


जयपुर। सरसंघचालक मोहन भागवत का कहना है कि परोपकार करना मनुष्य का स्वभाव है। मनुष्य को सक्षम बनाना ही सबसे बड़ी सेवा है। सेवा भारती के नवनिर्मित भवन के रविवार को लोकार्पण में उन्होंने कहा कि मनुष्य की सेवा ही संघ का उद्देश्य है। एकांत में सत्यसाधना और लोकांत में लोकसेवा होनी चाहिए। भागवत ने सेवा के बारे में बताया। जानिए और इस बारे में ...
- भागवत ने कहा, मनुष्य सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है। सेवा के पीछे मनुष्य को सक्षम बनाना ही संघ का उद्देश्य है। सेवा लेने वाला एक दिन इतना सक्षम हो जाए कि एक दिन सेवा लेने की आवश्यकता ही नहीं पड़े। यही सेवा का सही अर्थ है।
- सेवा की वास्तविक वृत्ति मनुष्य में मिलती है। जानवरों में भी सेवा की कुछ वृत्ति होती है। एकांत में सत्यसाधना और लोकांत में लोकसेवा होनी चाहिए। भाषण-प्रवचनों से अधिक चरित्र से शिक्षा मिलती है।
- सेवा के बारे में समझाते हुए भागवत ने कहा कि नेपाल में भूकंप आया तो हमने मदद की। यह नहीं देखा कि वह दूसरा राष्ट्र है। वहां आवश्यकता थी सो लोगों की सेवा की गई।
- विपदा के समय सेवा करना मनुष्य की वृत्ति है। समाज में देने की कमी नहीं है क्योंकि मनुष्यों का समाज है। वह देने के लिए हाथ बढ़ाता है। यही मनुष्य जीवन है।
सेवा के बारे में यह बोले भागवत
- सेवा करने का काम, बोलने का नहीं।
- मनुष्य से दूसरों का दुख देखा नहीं जाता।
- समाज में देनेवालों की कमी नहीं
- मनुष्य को सेवा लेने की आवश्यकता नहीं पड़े इसके लिए उसे सक्षम बनाना सबसे बड़ी सेवा।
सेवा भारती ने बच्चों को शिक्षित करने का बीड़ा उठाया
- समारोह को सीएम वसुंधरा राजे ने भी संबोधित किया। वसुंधरा ने सेवा भारती के बारे में कहा कि सेवा भारती ने बच्चों को शिक्षित करने का बीड़ा उठा रखा है। वसुंधरा ने कहा कि राजस्थान की संस्कृति में ही सेवाभाव है। इसी कारण से राजस्थान की देश-दुनिया में पहचान है।
- उन्होंने कहा, बच्चों को राजस्थान का इतिहास पता होना चाहिए और इसके लिए काम किया जा रहा है।
- सीएम ने राजस्थान में हो रहे विकास कार्यों के बारे में बताया। उन्होंने कहा, रामदेवरा का पैदल मार्ग तैयार हो रहा है, पुष्कर काे सुंदर बनाया जा रहा है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jaipur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×