Hindi News »Rajasthan News »Jaipur News »News» Rampage In Kota Mall On Padmawati

कोटा के मॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाने के विरोध में तोड़फोड़, 8 लोग अरेस्ट

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 10:15 PM IST

जयपुर राजघराने की दीया कुमारी ने पिछले दिनों इस फिल्म के खिलाफ सिग्नेचर कैम्पेन शुरू किया है।
    • Video- पद्मावती के विरोध में मॉल में तोड़फोड़...
      कोटा.फिल्म पद्मावती का राजस्थान में विरोध बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को कोटा के एक मॉल में इस फिल्म का ट्रेलर दिखाया जा रहा था। इसकी जानकारी मिलने पर कुछ प्रदर्शनकारी वहां पहुंचे और सिनेमा हॉल मे तोड़फोड़ की। पुलिस ने 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि राजपूत कम्युनिटी इस फिल्म का विरोध कर रही है। उनका आरोप है कि फिल्म में रानी पद्मावती को गलत तरीके से दिखाया गया है।

      कोटा में क्या हुआ?

      - कोटा के आकाश मॉल में एक थिएटर भी है। यहां कुछ लोग पहुंचे और फिल्म का ट्रेलर दिखाए जाने का विरोध किया। इसी दौरान कुछ लोगों ने सिनेमा हाल में तोड़फोड़ की।
      - बताया जा रहा है कि फिल्म का विरोध कर रहे राजपूत समाज ने ये तोड़फोड़ की है। राज्य के कई हिस्सों में रैली निकालकर फिल्म के प्रति विरोध जाहिर किया गया।
      राजस्थान के होम मिनिस्टर बोले- विरोध का सभी को अधिकार
      - इस मामले में राजस्थान के होम मिनिस्टर गुलाब चंद्र कटारिया ने कहा, ''लोकतंत्र में विरोध करने का सभी अधिकार है। अगर कोई सवैधानिक तरीके से विरोध प्रदर्शन करता है तो किसी को ऑब्जेशन नहीं होना चहिए। विरोध करने वाले अगर कानून को अपने हाथ में लेंगे तो उनके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। मुझे बताया गया है कि इस मामले में अब तक 8 लोगों को अरेस्ट किया गया है।''
      फिल्म पद्मावती को लेकर क्या आपत्ति है?
      - राजस्थान में करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच इंटीमेट सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है। लिहाजा, फिल्म को रिलीज से पहले पार्टी के राजपूत प्रतिनिधियों को दिखाया जाना चाहिए। ऐसा करने से रिलीज के वक्त फिल्म के लिए सहूलियत रहेगी और तनाव के हालात से बचा जा सकेगा।
      - अब राजस्थान के राजघराने भी विरोध में उतर आए हैं।
      कहां से शुरू हुआ विवाद?
      - राजस्थान में फिल्म शूटिंग के दौरान इसके विरोध की शुरुआत हुई थी। शूटिंग के वक्त राजपूत करणी सेना ने कई जगह प्रदर्शन किया था और पुतले फूंके थे। जयपुर में शूटिंग के दौरान कुछ लोगों ने भंसाली से बदसलूकी की थी, जिसके बाद कोल्हापुर में फिल्म का सेट लगाया तो यहां भी इसे जला दिया गया।
      डायरेक्टर का स्टैंड क्या है?
      - विरोध पर भंसाली ने कहा था कि इस फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है, जिसे लेकर विरोध किया जा रहा है। इसके बाद फिल्म में पद्मावती का किरदार निभा रही दीपिका पादुकोण ने इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्टर स्मृति ईरानी को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि इस तरह की घटनाओं पर एक्शन लिया जाना चाहिए।
      कई राजघराने भी विरोध में
      - राजस्थान के कई राजपूत घराने भी इस फिल्म के विरोध में आ गए हैं। जयपुर राजघराने की राजकुमारी दीया कुमारी ने पिछले दिनों इस फिल्म के खिलाफ सिग्नेचर कैम्पेन शुरू किया। इस दौरान दीया ने कहा कि इस कैम्पेन में ज्यादा से ज्यादा लोगों और ऑर्गनाइजेशन को जोड़ने के लिए इसे डिविजन लेवल पर भी ऑर्गनाइज किया जाएगा।
      - उन्होंने संजय लीला भंसाली से कहा कि वे रिलीज करने से पहले इतिहासकारों के फोरम के सामने इसकी स्क्रिनिंग करें।
    • कोटा के मॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाने के विरोध में तोड़फोड़, 8 लोग अरेस्ट
      +1और स्लाइड देखें
      पद्मावती फिल्म के ट्रेलर के विरोध में कोटा के मॉल में की गई तोड़फोड़।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Rampage In Kota Mall On Padmawati
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From News

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×