--Advertisement--

वेल्डिंग की चिनगारी से ट्रांसफार्मर में भड़की आग, 9 दमकालों ने छह घंटों में पाया आग पर काबू

वेल्डिंग की चिनगारी से ट्रांसफार्मर में भड़की आग, 9 दमकालों ने छह घंटों में पाया आग पर काबू

Danik Bhaskar | Nov 26, 2017, 01:55 PM IST
कई घंटों तक जलता रहा  ट्रांसफा कई घंटों तक जलता रहा ट्रांसफा


अजमेर। ट्रांसफार्मर में हो रही विस्फोट की घटना के बाद रविवार को अजमेर के एक ट्रांसफार्मर में आग लग गई। हालांकि यह आग वेल्डिंग के दौरान लगी। आग इतनी भीषण थी कि नौ दमकलों ने छह घंटे में आग पर काबू पाया। मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। जानिए और इस बारे में ...

- अजमेर के सबसे महत्वपूर्ण मदार पॉवर हाउस में एक ट्रांसफार्मर का बॉक्स बनाया जा रहा था। बाक्स बनाने के लिए वेल्डिंग का काम चल रहा था। वेल्डिंग के दौरान अचानक एक तार ने आग पकड़ ली और तार से आग ट्रांसफार्मर तक पहुंच गई।
- आग इतनी तेजी से फैली की किसी को कुछ समझने का मौका ही नहीं मिला और ट्रांसफार्मर धू-धू कर जलने लगा। ट्रांसफार्मर में आग का पता चलते ही वहां बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए।
- थोड़ी ही देर में एक-एक कर तीन दमकल वहां पहुंच गई। काफी देर मशक्कत के बाद भी आग पर काबू पाता नहीं देख दो और दमकल बुलाई गईं। इसके दो घंटे बाद दो और यानी नौ दमकल वहां पहुंच गई।
- नौ दमकलों ने छह घंटे में आग पर काबू पाया। आग से वहां अफरा-तफरी मची रही। इससे पहले जयपुर के खातलोई गांव में ट्रांसफार्मर में हुए विस्फोट की घटना से लोगों में दहशत रही। उल्लेखनीय है कि खातलोई गांव में ट्रांसफार्मर में विस्फोट में 21 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं इसके कुछ ही दिन बाद कोटपूतली के एक गांव में ट्रांसफार्मर में विस्फोट में एक किसान की मौत हो गई थी।

पास ही रखे थे ऑयल के ड्रम
- जहां वेल्डिंग हो रही थी वहीं पास में ऑयल के ड्रम रखे थे। आग उन ड्रमों तक पहुंच जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था।

- गनीमत रही की आग उन ड्रमों तक नहीं पहुंची जिससे बड़ा हादसा टल गया।

आगे की स्लाइड्स में देखिए और फोटोज

फोटो : मोहन ठाडा