एयर स्ट्राइक / शहीद जीतराम की मां बोली- मेरे बेटे की तरह दुश्मनों के भी हों हजार टुकड़े, तब मिलेगी शांति



पुलवामा हमले में शहीद जीतराम के परिजन पुलवामा हमले में शहीद जीतराम के परिजन
पुलवामा हमले में शहीद नारायण का बेटा पुलवामा हमले में शहीद नारायण का बेटा
बूंदी के हिंडौली में भारतीय सेना की ओर से की गई कार्रवाई पर सैनिक ग्राम उमर में खुशियां जताते पूर्व सैनिक व उनके परिजन। बूंदी के हिंडौली में भारतीय सेना की ओर से की गई कार्रवाई पर सैनिक ग्राम उमर में खुशियां जताते पूर्व सैनिक व उनके परिजन।
सीकर में भारतीय वायुसेना द्वारा आतंकवादियों पर की गई कार्रवाई के बाद पूरे शहर में जश्न मनाया गया। जगह-जगह मिठाइयां बांटीं। वीर सपूतों के प्रति अपनी भावनाएं व्यक्त कीं। सीकर में भारतीय वायुसेना द्वारा आतंकवादियों पर की गई कार्रवाई के बाद पूरे शहर में जश्न मनाया गया। जगह-जगह मिठाइयां बांटीं। वीर सपूतों के प्रति अपनी भावनाएं व्यक्त कीं।
27 मार्च 2015 को शहीद लेफ्टिनेंट अभिनव के पिता शिक्षा विभाग के पूर्व उपनिदेशक धर्मचंद नागौरी को जब उनकी बेटी स्मिता ने फोन कर यह खबर सुनाई तो उन्होंने अपने बेटे की साढ़े तीन साल से अलमारी में रखी वर्दी को बाहर निकाला। उसकी फोटो और वर्दी को नौ सेना के स्टाइल में सैल्यूट किया। इसके बाद उन्होंने अभिनव की टोपी पहनी। गैराज में पड़ी अभिनव की बाइक उठाई और लगाया पूरे शहर का चक्कर। 27 मार्च 2015 को शहीद लेफ्टिनेंट अभिनव के पिता शिक्षा विभाग के पूर्व उपनिदेशक धर्मचंद नागौरी को जब उनकी बेटी स्मिता ने फोन कर यह खबर सुनाई तो उन्होंने अपने बेटे की साढ़े तीन साल से अलमारी में रखी वर्दी को बाहर निकाला। उसकी फोटो और वर्दी को नौ सेना के स्टाइल में सैल्यूट किया। इसके बाद उन्होंने अभिनव की टोपी पहनी। गैराज में पड़ी अभिनव की बाइक उठाई और लगाया पूरे शहर का चक्कर।
भिवाड़ी में माजरा अहीर गांव में शहीद होशियार सिंह की प्रतिमा से लिपटा कृष्णा। जब भी दुश्मन देश पर विजय की अच्छी खबर पाता है तो यह बच्चा अपने पिता की प्रतिमा पर जाकर उन्हें याद करता है। भिवाड़ी में माजरा अहीर गांव में शहीद होशियार सिंह की प्रतिमा से लिपटा कृष्णा। जब भी दुश्मन देश पर विजय की अच्छी खबर पाता है तो यह बच्चा अपने पिता की प्रतिमा पर जाकर उन्हें याद करता है।
X
पुलवामा हमले में शहीद जीतराम के परिजनपुलवामा हमले में शहीद जीतराम के परिजन
पुलवामा हमले में शहीद नारायण का बेटापुलवामा हमले में शहीद नारायण का बेटा
बूंदी के हिंडौली में भारतीय सेना की ओर से की गई कार्रवाई पर सैनिक ग्राम उमर में खुशियां जताते पूर्व सैनिक व उनके परिजन।बूंदी के हिंडौली में भारतीय सेना की ओर से की गई कार्रवाई पर सैनिक ग्राम उमर में खुशियां जताते पूर्व सैनिक व उनके परिजन।
सीकर में भारतीय वायुसेना द्वारा आतंकवादियों पर की गई कार्रवाई के बाद पूरे शहर में जश्न मनाया गया। जगह-जगह मिठाइयां बांटीं। वीर सपूतों के प्रति अपनी भावनाएं व्यक्त कीं।सीकर में भारतीय वायुसेना द्वारा आतंकवादियों पर की गई कार्रवाई के बाद पूरे शहर में जश्न मनाया गया। जगह-जगह मिठाइयां बांटीं। वीर सपूतों के प्रति अपनी भावनाएं व्यक्त कीं।
27 मार्च 2015 को शहीद लेफ्टिनेंट अभिनव के पिता शिक्षा विभाग के पूर्व उपनिदेशक धर्मचंद नागौरी को जब उनकी बेटी स्मिता ने फोन कर यह खबर सुनाई तो उन्होंने अपने बेटे की साढ़े तीन साल से अलमारी में रखी वर्दी को बाहर निकाला। उसकी फोटो और वर्दी को नौ सेना के स्टाइल में सैल्यूट किया। इसके बाद उन्होंने अभिनव की टोपी पहनी। गैराज में पड़ी अभिनव की बाइक उठाई और लगाया पूरे शहर का चक्कर।27 मार्च 2015 को शहीद लेफ्टिनेंट अभिनव के पिता शिक्षा विभाग के पूर्व उपनिदेशक धर्मचंद नागौरी को जब उनकी बेटी स्मिता ने फोन कर यह खबर सुनाई तो उन्होंने अपने बेटे की साढ़े तीन साल से अलमारी में रखी वर्दी को बाहर निकाला। उसकी फोटो और वर्दी को नौ सेना के स्टाइल में सैल्यूट किया। इसके बाद उन्होंने अभिनव की टोपी पहनी। गैराज में पड़ी अभिनव की बाइक उठाई और लगाया पूरे शहर का चक्कर।
भिवाड़ी में माजरा अहीर गांव में शहीद होशियार सिंह की प्रतिमा से लिपटा कृष्णा। जब भी दुश्मन देश पर विजय की अच्छी खबर पाता है तो यह बच्चा अपने पिता की प्रतिमा पर जाकर उन्हें याद करता है।भिवाड़ी में माजरा अहीर गांव में शहीद होशियार सिंह की प्रतिमा से लिपटा कृष्णा। जब भी दुश्मन देश पर विजय की अच्छी खबर पाता है तो यह बच्चा अपने पिता की प्रतिमा पर जाकर उन्हें याद करता है।

  • शहीदों के परिजन बोले- दुश्मन देश पर की गई कार्रवाई के लिए भारतीय सेना के इस पराक्रम पर हमें गर्व है
  • जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े ट्रेनिंग कैम्प को उड़ाने का समाचार सुनाया तो शहीद की मां गोपा का मुंह गुस्से से लाल हो गया

Dainik Bhaskar

Feb 27, 2019, 03:04 AM IST

जयपुर. पीओके में मंगलवार तड़के एयर स्ट्राइक के बाद प्रदेशभर में जीत का जश्न मना। खुशियों की आतिशबाजी हुई। जगह-जगह पाक के विरोध में नारे लगे। सभी का यही कहना है कि पुलवामा हमले में मारे गए जवानों का बदला ले लिया। अब आतंक पर भारत लगाम लगाएगा। पाकिस्तान को करारा सबक सिखाएगा।

 

भरतपुर में शहीद जीतराम का मंगलवार को बारहवां था। नगर तहसील के सुंदरावली में शहीद जीतराम के घर पर भी कुछ ऐसा ही गमगीन माहौल था। इसी बीच खबर आई कि भारतीय वायुसेना ने पुलवामा में 40 जवानों के बलिदान का बदला लेते हुए पाक अधिकृत कश्मीर में आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद के ठिकानों को तहस-नहस कर दिया है।

 

इस कार्रवाई में 200 से 300 आतंकी मारे गए हैं। यह सुनकर शहीद जीतराम की मां गोपा बोल पड़ीं... दुश्मन ने जैसे मेरे बेटे के टुकड़े किए हैं, ऐसे ही दुश्मनों के शरीर के हजार-हजार टुकड़े होने चाहिए। तभी मेरा कलेजा ठंडा होगा। सेना को पूरी छूट मिलनी चाहिए कि वह आतंकवादियों को खत्म कर सके। 

 

सुंदरावली में शहीद जीतराम के परिजनों को भास्कर संवाददाता ने पाक अधिकृत कश्मीर के बाला कोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े ट्रेनिंग कैम्प को उड़ाने का समाचार सुनाया तो शहीद की मां गोपा का मुंह गुस्से से लाल हो गया। उसने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी विस्फोट में अपने बेटे सहित 40 जवानों की शहादत का बदला लेने और आतंक का खात्मा करके ही चैन से बैठने की बात कही।

 

गोपा के साथ बैठी गांव की महिलाओं ने पाक के खिलाफ रोष जताते हुए सरकार से सेना द्वारा दुश्मनों को खत्म करने की पूरी छूट देकर आरपार की लड़ाई करने की बात कही। बेटे की कुर्बानी का बदला लेने पर सैनिकों के साहस को धन्यवाद दिया।

 

राजसमंद : मोबाइल पर एयर स्ट्राइक की कार्रवाई देखता शहीद का बेटा

पुलवामा हमले के शहीद नारायणलाल गुर्जर और उरी हमले के शहीद निंब सिंह के परिजनों के चेहरों पर आत्मसंतुष्टि के भाव नजर आए। शहीद नारायण का बेटा मुकेश बोला- सेना ने पापा की मौत का बदला ले लिया। वीरांगना मोहिनीदेवी कहती हैं कि बदला तो तभी पूरा होगा, जब सेना आतंक का पूरी तरह से खात्मा कर दे। पाकिस्तान में मंगलवार तड़के हुई एयर स्ट्राइक को मोबाइल पर लाइव देखता शहीद का बेटा मुकेश। उसके साथ उसकी मां मोहिनीदेवी और बहन हेमलता ने भी सेना की कार्रवाई की खबर मोबाइल पर देखा। भारत माता के जयकारे लगाए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना