जालंधर / जयपुर के ज्वेलर काे जालंधर के एनआरआई ने दुबई में ठगा, शारजाह काेर्ट ने 3 साल की सजा दी, अब प्रत्यर्पण की याचिका



Cheated in Dubai with Jaipur jeweler
X
Cheated in Dubai with Jaipur jeweler

  • शारजाह काेर्ट ने जब सजा दी उससे पहले ही जालंधर का ज्वैलर भारत आ गया, जिससे सजा एक्जीक्यूट नहीं हाे सकी

Dainik Bhaskar

Jul 20, 2019, 03:33 AM IST

जयपुर/जालंधर.  जयपुर में नया खेडा अंबाबाडी में रहने वाले एनअारअाई ज्वेलर राहुल साेनी से जालंधर के ज्वेलर अशाेक कंडा ने दुबई में करीब पांच कराेड़ रुपए की ठगी कर ली अाैर भारत अा गया। ठगी के शिकार ज्वेलर ने शारजाह काेर्ट में न्याय की याचिका लगाई। तब काेर्ट ने कंडा काे तीन साल की सजा सुना दी। मगर इससे पहले ही कंडा शारजाह छाेड़कर भारत अा गया। इसके चलते सजा एक्जीक्यूट नहीं हाे पाई। इस पर शारजाह काेर्ट ने कंडा के खिलाफ इंटरनेशनल अरेस्ट वारंट जारी किया। बाद में शारजाह काेर्ट के अाॅर्डर पर इंटरपाेल ने अाराेपी की तलाश के लिए सीबीअाई काे पत्र लिखा। तब सीबीअाई की विंग अाईबी ने कंडा काे तलाश लिया अाेर इसकी जानकारी इंटरपाेल अाबूधाबी काे भेज दी कि अाराेपी जालंधर में है। अब कंडा काे प्रत्यर्पण संधि के तहत जालंधर से शारजाह ले जाने के लिए पीड़ित ने शारजाह कार्ट में याचिका लगाई है। 

 

ज्वेलर राहुल साेनी की यूएई में मीना ज्वेलर्स एडं हैंडीक्राफ्ट एफजेडई के नाम से फर्म है। इस फर्म के माध्यम से राहुल ज्वेलरी काे इंडिया से इंपाेर्ट कर वहां के छाेटे ज्वैलराें काे सप्लाई करते थे। वर्ष 2015 में यूएई में राहुल साेनी की मुलाकात जालंधर निवासी अशाेक कंडा व इनके बेटे विक्रम व राजीव कंडा से हुई। कंडा की शारजाह में अल हुनेदी ज्वेलर्स एलएलसी के नाम से फर्म है। राहुल साेनी से जान पहचान हाेने के बाद कंडा यूएई में इनसे ज्वेलरी खरीदने लगा। दाेनाें में अच्छी जान पहचान हाेने के बाद कंडा ने करीब पांच कराेड़ रुपए की ज्वेलरी राहुल साेनी से खरीद ली अाैर चेक दे दिए जाे बाउंस हाे गए। चेक बाउंस हाेते ही कांडा शारजाह छाेड़कर भारत अा गया।

 

पीड़ित शारजाह काेर्ट गया ताे मिली सजा
अाराेपी के शारजाह छाेड़कर भारत अाने के बाद पीड़ित ज्वेलर ने वर्ष 2017 में शारजाह काेर्ट की शरण ली अाैर कांडा के खिलाफ केस कर दिया। न्यायालय ने गत वर्ष 25 फरवरी काे निर्णय सुनाते हुए अशाेक कंडा काे तीन साल की सजा सुनाई। मगर अाराेपी इससे पहले ही यूएई छाेड़कर भारत अा गया था। जिसके कारण सजा एक्जीक्यूट ही नहीं हाे पाई। अाराेपी के यूएई छाेड़कर चले जाने की जानकारी जब शारजाह काेर्ट काे लगी ताे काेर्ट ने गत वर्ष पांच मार्च काे कांडा के िखलाफ इंटरनेशनल अरेस्ट वारंट निकाल दिया।

 

अरेस्ट वारंट निकलते ही इंटरपाेल ने जारी कर दिए रेड कार्नर नाेटिस
शारजाह काेर्ट की अाेर से इंटरनेशनल अरेस्ट वारंट निकलते ही यूएई  इंटरपेाल ने सीबीअाई इंडिया काे रेड कार्नर नाेटिस भेज दिया। रेड काॅर्नर नाेटिस मिलते ही सीबीअाई ने कांडा की तलाश की जिम्मेदारी अाईबी पंजाब काे दी। तब अाईबी ने करीब एक साल में पता कर लिया कि कांडा जालंधर में है अाैर इसकी रिपाेर्ट इंटरपाेल काे भेज दी। अब पीड़ित ने कंडा काे प्रत्यर्पण संधि के तहत भारत से शारजाह ले जाने अाैर तीन साल की सजा एक्जीक्यूट कराने के लिए शारजाह काेर्ट में अाठ जुलाई काे याचिका लगाई है।

 

खुलेअाम घूम रहा अाराेपी दे रहा धमकियां 
ज्वेलर ने कहा कि शारजाह में भारतीय एनअारअाई ने ठगी की। भारतीय हाेने की बात कहकर मुझे विश्वास में ले लिया। ठगी के बाद शारजाह काेर्ट का सहारा लिया अाैर वहां से मुझे न्याय मिला। अाराेपी काे तीन साल की सजा हुई। मगर अाराेपी भारत में बैठा है। उसके खिलाफ शारजाह काेर्ट ने इंटरनेशनल अरेस्ट वारंट जारी कर दिए। इंटरपाेल ने रेड कार्नर नाेटिस जारी कर दिए। फिर भी अारेापी जालंधर में खुले में घूम रहा है अाैर मुझे धमका रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना