Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Controversy Over Changing Names Of Hindu Majority Villages

राजस्थान सरकार हिंदू बहुल गांवों के मुस्लिम नाम बदल रही, कहा- हिंदू युवाओं की शादी में अड़चन आ रही थी

अधिकारियों ने कहा कई गांव के लोगों ने सरकार से की थी शिकायत

Bhaskar News | Last Modified - Aug 10, 2018, 11:41 AM IST

राजस्थान सरकार हिंदू बहुल गांवों के मुस्लिम नाम बदल रही, कहा- हिंदू युवाओं की शादी में अड़चन आ रही थी

- राज्य सरकार ने केंद्र को 27 गांवों के नाम बदलने का प्रस्ताव भेजा था

जयपुर. राजस्थान सरकार ने हिंदू बहुल तीन गांवों के मुस्लिम नाम बदल दिए। चार अन्य गांवों के नाम भी जल्द बदले जाएंगे। राज्य सरकार ने केंद्र से 27 गांवों के नाम बदलने की मांग की थी। इनमें से आठ के लिए मंजूरी मिल गई। सरकार के मुताबिक, कई लोगों ने शिकायत की थी कि उनके गांवों के नाम मुस्लिम होने की वजह से हिंदू युवाओं की शादी में दिक्कत आ रही थी। इसके बाद पंचायत स्तर से ही नाम बदलने का प्रस्ताव आया था। राजस्व राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अमराराम के मुताबिक तय प्रक्रिया से ही बदलाव किया गया।

पहलेअब
मियों का बाड़ा (बाड़मेर)महेशनगर

इस्माइलपुर (झुंझुनूं)

पिचानवा खुर्द
सलेमाबाद (अजमेर)श्रीनिंबार्क तीर्थ

इन गांवों के नाम बदलना प्रस्तावित

अभी नया नाम
मोहम्मदपुरा (चित्तौड़गढ़)मेडी का खेड़ा
नवाबपुरा (चित्तौड़गढ़)नईसरथल
रामपुर आजमपुर (चित्तौड़गढ़)सीतारामजी खेड़ा
मंडफिया (चित्तौड़गढ़)

सांवलियाजी

किसी भी गांव का नाम बदलने के लिए पंचायत सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर राजस्व विभाग को भिजवाती है। इसकी पुष्टि करने के बाद राज्य सरकार की ओर से केंद्र को प्रस्ताव भेजा जाता है। अनुमति मिलने के बाद नाम बदलने की प्रक्रिया शुरू की जाती है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×