राजस्थान / मालपुरा में 2 घंटे कर्फ्यू में मिली ढील, बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े

कर्फ्यू में मिली ढील के दौरान बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े। कर्फ्यू में मिली ढील के दौरान बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े।
Curfew relaxed for 2 hours in Malpura
Curfew relaxed for 2 hours in Malpura
X
कर्फ्यू में मिली ढील के दौरान बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े।कर्फ्यू में मिली ढील के दौरान बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े।
Curfew relaxed for 2 hours in Malpura
Curfew relaxed for 2 hours in Malpura

  • संभागीय आयुक्त बोले 13 तारीख तक बंद रहेगा इंटरनेट, दशहरे की रात को हुआ था तनाव, दो दिन से दूध-सब्जियों को तरसे लोग
     

दैनिक भास्कर

Oct 11, 2019, 10:58 AM IST

मालपुरा (टोंक)। मालपुरा में शुक्रवार को तीसरे दिन कर्फ्यू में दो घंटे की ढील दी गई। सुबह 8.30 से 10.30 बजे तक कर्फ्यू हटाया गया। प्रशासन ने इस दौरान केवल दुपहिया वाहनों के आवागम की ही इजाजत दी। कर्फ्यू में ढील के दौरान मालपुरावासियों ने दूध-सब्जियां व परचून सामान की खरीदारी की। इससे सब्जी-विक्रेताओं व परचून की दुकानों और दूध पार्लर पर लोगों की भीड़ रही। बड़ी संख्या में लोग बाजार में उमड़े।

 

संभागीय आयुक्त बोले- जुलूस के समय थी पुख्ता पुलिस व्यवस्था
 

इससे पहले गुरुवार शाम को शांति समिति, सीएलजी की बैठक थाना परिसर में हुई। बैठक में सभी समुदाय के लोगों ने भाग लिया। इसमें सभी समाज के लोगों ने घटना की निंदा करते हुए खेद जताया। संभागीय आयुक्त एल.एन.मीणा ने कहा कि विजयादशमी पर जुलूस के दौरान पुलिस व्यवस्था पर्याप्त थी। घटना में कोई प्रशासनिक चूक नहीं है। इस अवसर पर पुलिस महानिरीक्षक संजीव नार्जरी ने भी आवश्यक जानकारी दी। कलक्टर के के शर्मा ने कहा कि कैमरे तोड़ने की घटना हुई थी। कैमरे वाले ने सूचित किया था लेकिन बाद में वहां के लोगों को बुला कर कैमरे वहीं स्थापित कर दिए थे। घटना को जुलूस निकलने से बहुत पहले दुरुस्त कर दिया गया था। शांति समिति की बैठक में भी यह बात खुल कर हुई।

 

मालपुरा में लोग कर्फ्यू के चलते घरों में कैद रहे। शहर में अचानक कर्फ्यू लगने से जहां घरों में जरूरी वस्तुएं खरीदने से चूके लोग दो दिन से कर्फ्यू में ढील नहीं मिलने के कारण परेशान रहे। हालांकि गुरुवार व शुक्रवार को अखबारों का पूर्व की तरह वितरण हुआ। बसों का आवागमन बिल्कुल बंद रहा। कर्फ्यू दौरान मालपुरा में सभी रास्तों को सीज कर दिया। शहर में सामान्य स्थिति कायम करने के लिए आईजी संजीव नार्जरी, संभागीय आयुक्त एल.एन.मीणा सहित कलक्टर के के शर्मा व एसपी आदर्श सिद्धू सहित एएसपी व डीएसपी, सीआई, एसआई व एएसआई सहित विभिन्न विशेष सुरक्षा बल के जवान अपने अपने प्वांइट पर तैनात रहे। कलक्टर व एसपी ने बताया कि पथराव के आरोप में अभी तक दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। शेष की पहचान की जा रही। अब शहर में शांति है।

 

कस्बे में गुरुवार को सफाई का कार्य शुरू किया गया जो शुक्रवार को भी जारी रहा। सफाई कर्मचारी दिनभर सड़कों पर पड़े कचरे के ढेरों को साफ करते रहे। पथराव मामले में अब तक तीन मामले दर्ज किए गए है। इनमें एक पुलिस की ओर से व दो मामले समुदाय विशेष के लोगों की ओर से दर्ज कराए गए है। उल्लेखनीय है कि मालपुरा में विजयादशमी पर यात्रा के दौरान पथराव के बाद हालात बिगड़ते देख बुधवार को कर्फ्यू लगा दिया गया था।

 

न्यूज व फोटो-वीडियो : महेश शर्मा
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना