बधाई / दैनिक भास्कर की रन बनाओ इनाम पाओ स्कीम में जीता फ्री लंदन घूमने का मौका

dainik bhaskar's run banao inam pao: Won free London tour
X
dainik bhaskar's run banao inam pao: Won free London tour

  • हनुमानगढ़ की रिया बंसल, नाथद्वारा के ओमप्रकाश बागोरा को मिली खुशियों की सौगात
  • जोधपुर के हेमंत कुमार तथा भीलवाड़ा के त्रिलोक कुमार भी बने विजेता

दैनिक भास्कर

Aug 29, 2019, 02:42 AM IST

जयपुर. दैनिक भास्कर की ओर से पाठकों के लिए चलाई गई रन बनाओ- इनाम पाओ योजना में हनुमानगढ़ की रिया बंसल, नाथद्वारा के ओमप्रकाश बागोरा, जोधपुर के हेमंत कुमार तथा भीलवाड़ा के त्रिलोक कुमार के लिए खुशियों की सौगात लेकर आई। इन सभी ने दैनिक भास्कर की इस योजना में पुरस्कार के तौर पर फ्री लंदन घूमने मौका (फुली पैड ट्रिप) या गोल्ड ज्वैलरी मिलेगी।

 

पहली बार इतना बड़ा इनाम पाया: बागोरा

राजसमंंद के नाथद्वारा शहर के वार्ड 1 निवासी ओमप्रकाश बागोरा ने बताया कि जीवन में पहली बार किसी प्रतियोगिता में भाग लिया और इतना बड़ा इनाम पाया। बागोरा की माणक चाैक में चाय की दुकान है। उन्होंने बताया कि इनाम मिलने से कुछ दिन पहले ही दौहित्री का जन्म हुआ था। परिवार में नवजात दौहित्री को खुश नसीब माना जा रहा है। बागोरा ने लंदन यात्रा की जगह 2 लाख का सोना लेना तय किया है। बागोरा के अनुसार 2 लाख के सोने में से वह 50 हजार का सोना दौहित्री को देंगे। बाकी के सोने से पत्नी के लिए आभूषण बनवाएंगे।

 

त्रिलोक के परिवार में खुशियों का माहौल
भीलवाड़ा शहर की लेबर काॅलाेनी में रहने वाले त्रिलाेककुमार को पुरस्कार जीतने की सूचना मिलते ही पूरे परिवार में खुशी का माहौल हाे गया। रीकाे स्थित फैक्ट्री टाइटन फैब में काम करने वाले त्रिलाेक ने बताया कि वे  8 साल से भास्कर के नियमित पाठक हैं। उनका पूरा परिवार भास्कर पर विश्वास करता है।

 

tri

 

यकीन नहीं हो रहा, इतना बड़ा इनाम जीता : रिया
हनुमानगढ़ टाउन के वार्ड 33 निवासी रिया बंसल ने कहा कि मुझे यकीन ही नहीं हो रहा कि मैंने दो लाख रुपए का सोना जीता है। करीब आठ साल पहले भास्कर से मिक्सर ग्राइंडर मिला था। रिया के दादा बृजमोहन गिदड़ा ने बताया कि वे निरंतर 20 साल से दैनिक भास्कर का पाठक हूं। पिता मदन गोपाल व रिया की माता सपना ने कहा कि भास्कर में मधुरिमा पठनीय होती है।

 

ri

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना