अवसान / तमाशा के बुजुर्ग कलाकार दामाेदर भट्ट नहीं रहे



Damodar Bhatt dies
X
Damodar Bhatt dies

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 01:20 AM IST

जयपुर. पारंपरिक लाेक नाट्य तमाशा की पिछले पांच दशकाें से बागडाेर थामने वाले बुजुर्ग कलाकार दामाेदर भट्ट का शनिवार काे ब्रह्मपुरी स्थित उनके निवास पर निधन हाे गया। वाे 81 साल के थे।

 

दामाेदर भट्ट ब्रह्मपुरी छोटे अखाड़े में हाेने वाले जयपुर के पारंपरिक लाेक नाट्य तमाशा में पं. वासुदेव भट्ट, तपन भट्ट अाैर विशाल भट्ट के साथ कर्इ महत्वपूर्ण भूमिकाअाें का निर्वहन करते थे। दामोदर प्रख्यात शास्त्रीय गायक और तमाशा कलाकार फूल जी भट्ट के भतीजे और प्रसिद्द तमाशा साधक मन्नू जी भट्ट के सुपुत्र थे।

 

दामोदर शास्त्रीय गायकी में भी पारंगत थे। प्रयाग संगीत समिति की अाेर से संचालित विद्यालय में वे प्रिंसिपल रहे हैं। संस्कृत शिक्षा निदेशालय में लगभग 35 वर्ष कार्य करने वाले दामाेदर भट्ट ने रांझा हीर तमाशे में रांझा की, जोगी जोगन तमाशे में जोगी की और गोपीचंद तमाशे में गोपीचन्द की भूमिका की थी। 

 

उन्होंने कई भजनों की भी रचनाएं कीं। अपने निवास पर वो वीणा पानी कला मंदिर नाम से संगीत विद्यालय चलाते थे जिसमें नए बच्चों को संगीत की शिक्षा देते थे। अपने छोटे भाईयों के साथ परिवार के सभी छोटे बड़े कलाकारों को खेल ही खेल में तमाशा सिखा कर उन्होंने उन्हें मंझा हुआ तमाशा कलाकार बना दिया।

COMMENT