राजस्थान / बेटियों की साइकिल पर सवार सियासत; भगवा नहीं, अब रंग फिर काला

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 12:10 AM IST



भाजपा की साइकिल। जदयू की साइकिल। भाजपा की साइकिल। जदयू की साइकिल।
सपा साइकिल। सपा साइकिल।
X
भाजपा की साइकिल। जदयू की साइकिल।भाजपा की साइकिल। जदयू की साइकिल।
सपा साइकिल।सपा साइकिल।

  • कई राज्यों में स्कूली बच्चों की साइकिल के रंगों के साथ बदलती रही सियासी दलों की राजनीति
  • बिहार से काली चली थी, यूपी पहुंचते ही हरी-लाल हो गई, राजस्थान ने भगवा किया था, अब काला पोतेंगे

जयपुर. साइकिल पर सवार होकर सियासत फिर चल पड़ी है। फिर एक बार रंग बदलकर चलेगी सियायत की यह साइकिल। राजस्थान सरकार के शिक्षामंत्री ने गुरुवार को बताया- राजस्थान की बेटियों को अब ऑरिजनल कलर यानी काली साइकिल देंगे।

 

गोविंद सिंह डोटासरा ने शिक्षामंत्री बनते ही साइकिल का रंग बदलने की एलान किया था। डोटासरा ने गुरुवार को बताया कि छात्राओं को दी जाने वाली साइकिल उसी कलर की होगी, जो वर्षों से चला आ रहा है। उन्होंने स्कूली यूनिफॉर्म बदलने के सवाल पर कहा कि इसके लिए एक कमेटी बनी हुई है। कमेटी की रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।


सियासत की साइकिल का रंग फिर बदलने की तैयारी है। काली रंग की साइकिल बिहार से चली। यूपी में पहुंचले ही इसका रंग लाल और हरा हुआ। फिर राजस्थान 2012-13 में साइकिल का रंग छात्राओं की मर्जी का कर दिया। जैसी चाहें खरीद सकती थीं। प्रदेश में फिर भाजपा सरकार आई और 2 लाख 95 हजार 671 साइकिलों का आर्डर दिया गया वह भी भगवा रंग की। दावा था-यह छात्राओं कलरफुल पसंद और चीयरलुक है। 2018 में प्रदेश में कांग्रेस सरकार आई। अब फिर से इसे भगवा से काले रंग की करने की तैयारी है।

 

दिल्ली : केंद्र ने राज्य सरकार को घेरने के लिए केजरीवाल के ऑटो हथियार के जवाब में साइकिल को रैली निकाली और प्रदूषण को मुद्दा बनाया।

 

यूपी : बरेली बीजेपी राज में छात्रों को बांटने के लिए आए स्कूली बैगों का रंग भगवा करा दिया गया। अमेठी में आशा कार्यकर्ताओं को साइकिल बांटने पर भी बीजेपी और सपा में घमासान मचा था। अखिलेश राज के बजट से आई साइकिलों को बीजेपी सरकार में बंटने पर सियासत गर्माई।

 

लखनऊ में सपा सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट साइकिल ट्रैक पर बीेजेपी सरकार ने भगवा रंग पुतवा दिया था। यूपी में रंगों की इस सियासत का कोई ओर-छोर ही नहीं आता। सीएम दफ्तर से लेकर स्कूल, बसें, यहां तक की लखनऊ के हज हाउस की दीवारों को भी भगवा रंग से सराबोर कर दिया गया था।

COMMENT