बजट में युवा / 75 करोड़ के स्टार्टअप फंड की घोषणा, 6 हजार युवाओं को टूरिस्ट गाइड का प्रशिक्षण दिया जाएगा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 1 घंटा 41 मिनट का बजट भाषण दिया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 1 घंटा 41 मिनट का बजट भाषण दिया।
X
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 1 घंटा 41 मिनट का बजट भाषण दिया।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 1 घंटा 41 मिनट का बजट भाषण दिया।

  • गहलोत ने सात संकल्पों में बजट को पेश किया, चौथे संकल्प में छात्र, युवा और जवान के लिए योजनाओं का जिक्र 
  • 7 विभागों में युवाओं के लिए सरकारी पदों पर 53 हजार से ज्यादा भर्ती निकाली जाएगी

दैनिक भास्कर

Feb 20, 2020, 07:27 PM IST

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को साल 2020-21 का बजट विधानसभा में पेश किया। गहलोत ने सात संकल्पों में बजट को पेश किया। बजट में छात्र, युवा और जवान के लिए की गई घोषणाओं को चौथे संकल्प में रखा। बजट में 75 करोड़ के स्टार्टअप फंड की घोषणा गई है। इस फंड से युवाओं को स्टार्टअप स्टेबलिस्ट करवाने में मदद की जाएगी। इसके साथ ही पर्यटन क्षेत्र में युवाओं को रोजगार देने के लिए 6 हजार युवाओं को टूरिस्ट गाइड का प्रशिक्षण दिया जाएगा। एक नजर में देखिए, बजट में क्या मिला छात्र, युवा और जवान को।

ओलम्पिक में स्वर्ण पदक जीतने पर 3 करोड़ का इनाम: ओलम्पिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने पर 3 करोड़ रुपए की इनामी राशि देने की घोषणा बजट में की गई है। यह राशि पहले 75 लाख रुपए थी। इसी तरह रजत जीतने पर 2 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। अब तक यह इनामी राशि 50 लाख थी। वहीं, कांस्य जीतने पर 30 लाख रुपए की राशि को बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए करने की घोषणा की गई है। वहीं, एशियन गेम्स/कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने पर 1 करोड़ के इनाम की घोषणा की गई। अब तक यह 30 लाख रुपए थी। वहीं, रजत पदक जीतने पर 20 लाख रुपए से बढ़ाकर 60 लाख रुपए और कांस्य पदक जीतने 10 लाख रुपए को बढ़ाकर 30 लाख रुपए किया गया है।

संविदा पर 500 कोच की भर्तियां: विभिन्न खेलों के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी तैयार करने के लिए संविदा पर 500 कोच रखे जाएंगे। इस पर लगभग 10 करोड़ रुपए वार्षिक व्यय आएगा। राज्य खेलों की तर्ज पर ब्लॉक और जिला स्तर पर खेलों का आयोजन किया जाएगा, ताकि 2022 में होने वाले राज्य खेल और अधिक सफल हो सकेंगे। इसके लिए 5 करोड़ का प्रावधान रखा जाएगा। इस साल राज्य खेलों में क्रिकेट और हैंडबाल को भी शामिल किया जाएगा। वहीं, राज्य के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने पर दैनिक भत्ते की दरों को बढ़ाकर 500 से 1 हजार रुपए और 300 से 600 रुपए करने की घोषणा की।

7 विभागों में 53 हजार से ज्यादा भर्तियां: सरकार के विभिन्न विभागों में 53 हजार 181 पदों पर भर्ती निकाले जाने की घोषणा सबसे अहम रही। इनमें मेडिकल एंड हेल्थ विभाग में 4369 पदों पर, मेडिकल एजुकेशन में 573 पदों पर, कोआपरेटिव में 1000 पदों पर, एजुकेशन में 41 हजार पदों पर, लोकल सेल्फ गर्वनमेंट में 1039 पदों पर, गृह विभाग में 5000 पदों और जीएडी में 200 पदों पर भर्तियां निकाली जाएगी।

कौशल विकास के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम: युवाओं में कौशल विकास के लिए कौशल वृद्धि और रोजगार प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया जाएगा। इसमें राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम एवं राजस्थान स्किल यूनिवर्सिटी के माध्यम से हर साल 10 हजार विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रदेश के महाविद्यालयों में विद्यार्थियों को ऑफलाइन/ऑनलाइन वीडियो लेक्चर की सुविधा के लिए राजीव गांधी ई कंटेंट बैंक की स्थापना की जाएगी। इसमें कॉलेज शिक्षकों द्वारा दिए गए लेक्चर को रिकार्ड किया जाएगा। राज्य में स्थापित हो रही रिफाइनरी एवं प्राकृतिक गैस संभावनाओं के चलते शोध एवं उच्च अध्ययन की महत्ता को ध्यान में रखते हुए एमबीएम इंजीनियरिंग कॉलेज को अपग्रेड करके विश्वविद्यालय स्तर का बनाया जाएगा। इसके लिए 20 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया।

आईटीआई में ई-क्लास रूम से प्रशिक्षण: प्रदेश के सभी 229 राजकीय आईटीआई में युवाओं को ई-क्लास रूम के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जाएगा। राजीव गांधी स्किल प्रोग्राम के तहत राजस्थान नॉलेज कार्पोरेशन लिमिटेड द्वारा राज्य कौशल विकास विश्वविद्यालय (आरआईएसयू) के सहयोग से उभरती हुई तकनीक जैसे कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, बिग डेटा एनालिटिक्स एवं रोबोटिक ऑन लाइन डिजिटल कौशल के कोर्सेज शुरू किए जाएंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना