Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Discoms To Implement Monthly Billing After Assembly Elections

जयपुर शहर, अजमेर व जोधपुर डिस्कॉम सर्किल में विधानसभा चुनाव के बाद ही लागू होगी मंथली बिलिंग

बैकफुट पर डिस्कॉम

श्याम राज | Last Modified - Aug 10, 2018, 05:54 PM IST

जयपुर शहर, अजमेर व जोधपुर डिस्कॉम सर्किल में विधानसभा चुनाव के बाद ही लागू होगी मंथली बिलिंग

जयपुर। प्रदेश के कई इलाकों में मंथली व स्पॉट बिलिंग के विरोध के बाद जयपुर, जोधपुर व अजमेर डिस्कॉम में आगे की प्रक्रिया को स्थगित कर दिया है। अब विधानसभा चुनावों के बाद ही हर महीने बिजली बिल देने का सिस्टम लागू होगा। वहीं जयपुर डिस्कॉम के 12 सर्किल्स में स्पॉट बिलिंग के जरिए बिल देने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, ऐसे में यहां हर महीने ही बिल आएंगे।

राजस्थान डिस्कॉम के चेयरमेन आरजी गुप्ता का कहना है कि अजमेर व जोधपुर डिस्कॉम में मंथली बिलिंग के लिए जरूरी संस्थान नहीं है। नए सिस्टम के टेंडर भी प्रक्रिया में है। स्टडी के बाद ही मंथली बिलिंग शुरु होगी। जयपुर शहर में भी लोगों को पहले जागरूक करेंगे। सही सिस्टम काम करने के बाद ही हर महीने बिल देंगे। इसमें तीन-चार महीने का समय लग सकता है।

स्पॉट बिलिंग पहले फेल, अब मंथली बिलिंग के साथ थोपा : कांग्रेस

कांग्रेस नेता दीपक डंडोरिया का कहना है कि स्पॉट बिलिंग पहले फेस साबित हो चुकी है। मीटर में चिप व छेड़छाड़ के मामले में स्पॉट बिलिंग करने वालों के नाम सामने आ चुके है। अब डिस्कॉम प्रबंधन स्पॉट बिलिंग के साथ ही मंथली बिलिंग भी जनता पर थोप रहा है। यह गलत है। जयपुर जिला सर्किल के साथ ही अन्य सर्किल्स से भी इसे वापस लिया जाना चाहिए। प्रदेश में दो तरह की बिलिंग का विरोध किया जाएगा। किसानों पर इसे जबरन लागू किया तो विरोध करेंगे।

ऊर्जा राज्य मंत्री की घोषणा का नहीं असर

राजस्थान विद्युत विनियामक आयोग (आरईआरसी) के आदेश के बाद ऊर्जा विभाग ने दिसंबर 2017 में घोषणा की थी कि अप्रैल 2018 से प्रदेशभर में हर महीने बिलिंग सिस्टम किया जाएगा, लेकिन जयपुर डिस्कॉम के 13 में से केवल 12 सर्किलों के 31 लाख उपभोक्ताओं पर ही यह लागू किया जा सका है जबकि कोटा व भरतपुर के शहर प्राइवेट फ्रैंचाइजी के पास हैं। जोधपुर व अजमेर डिस्कॉम में कुछ जगह पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू की गई मंथली बिलिंग फेल साबित हुई है। यहां नए स्पॉट बिलिंग सिस्टम के लिए अभी तक टेंडर भी नहीं हुए हैं। ऐसे में अगले साल अप्रैल 2019 से ही मंथली बिलिंग शुरू होगी।

इन 12 सर्किल में होती रहेगी हर महीने बिलिंग
जयपुर जिला सर्किल, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, दौसा, सवाई माधोपुर, कोटा, टोंक, झालावाड़, बूंदी व बारां।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×