पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Evidence Of Firing On The Sons And Witnesses Of Pehlu Khan

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस जांच में फायरिंग के नहीं मिले साक्ष्य, सीसीटीवी खंगाले

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पहलू खान। -फाइल फोटो
  • पहलू खान के बेटों एवं गवाहों पर फायरिंग का मामला

नीमराना(अलवर).  कथित गोरक्षकों की पिटाई में मारे गए पहलू खान के बेटों एवं गवाहों पर फायरिंग के पुलिस को दूसरे दिन भी कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं। नेशनल हाईवे नंबर आठ पर लगे सीसीटीवी कैमरों पुलिस ने जांच की है। फुटेज में बोलेरो गाड़ी दिखाई दे रही है, जिसमें पहलू के बेटे इरशाद, आरिफ व गवाह अजमत, रफीक, सामाजिक कार्यकर्ता व वकील असद हयात तथा बोलेरो चालक अमजद सवार हैं। जिस काले रंग की स्कॉर्पियो की बात बताई है वह कहीं दिखाई नहीं दी है।

 

इससे पहले शनिवार को परिजनों व गवाहों ने काले रंग की स्कॉर्पियों में बैठे बदमाशों द्वारा गाली देने तथा फायरिंग का आरोप लगाया था। मामले में सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस अधीक्षक राजेंद्र सिंह को ज्ञापन दिया था। एसपी के निर्देश पर नीमराना थाने में इरशाद की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई थी।

 

रिपोर्ट में बहरोड़ कोर्ट में होने वाली गवाही से रोकने के लिए फायरिंग का आरोप लगाया गया था। रिपोर्ट में कहा गया कि काले रंग की बिना नंबर की स्कॉर्पियो गाड़ी ने बोलेरो को ओवरटेक किया। गाड़ी नहीं रोकने पर पिछली सीट पर बैठे एक व्यक्ति ने फायरिंग की।

 

सीसीटीवी में साफ है- 15 मिनट तक कोई गाड़ी नहीं गुजरी : जांच में जुटी पुलिस को घटना स्थल के आसपास न तो कोई बुलेट मिला और नहीं छर्रे मिले। एफएसएल टीम ने परिजनों व गवाहों को मौके पर ले जाकर जांच की। उन्हें भी फायरिंग के साक्ष्य नहीं मिले।

 

घटनास्थल के पास स्थित होटल के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज में महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगा है। इसमें बोलेरो गाड़ी सुबह 9 बजकर 4 मिनट पर आती दिखाई दे रही है। यह फुटेज घटना स्थल के नजदीक के हैं। इसके बाद 15 मिनट तक कोई गाड़ी नहीं गुजरी है। पुलिस अधिकारी मान रहे हैं कि पहलू खान के परिजन इस केस को तिजारा या अलवर ट्रांसफर करवाना चाह रहे हैं। पुलिस ने गवाहों पर परिजनों को एक-एक कर के घटना स्थल ले जाकर पूछताछ की तो बयानों में भी फर्क आया है।
 

डेढ़ साल पहले हुई थी पहलू की मौत : उल्लेखनीय है कि पहलू खान हरियाणा के नूंह जिले के जयसिंहपुर गांव का रहने वाला था। बहरोड़ में  1 अप्रैल 2017 को तथाकथित गोरक्षाें ने पहलू खान की पिटाई की थी। इसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। बाद में 4 अप्रैल को उसने बहरोड़ में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। उस समय पुलिस ने कहा था कि इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी मौके से पुलिस या कंट्रोल रूम को जानकारी नहीं दी। इसलिए जांच में परेशानी आ रही है।

 

हमने एक दर्जन बिंदुओं पर गहनता से जांच की है। अभी तक फायरिंग के साक्ष्य नहीं मिले हैं। हाईवे पर लगे सीसीटीवी कैमरों की भी जांच की गई है। काले रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी भी दिखाई नहीं दे रही है।- राजेंद्र सिंह, एसपी अलवर

 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें