• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • News
  • Jaipur - क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे
--Advertisement--

क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे

सिटी रिपोर्टर

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:46 AM IST
Jaipur - क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे
सिटी रिपोर्टर
जेकेके में चल रही 80 दिवसीय सिरेमिक्स ट्राइएनियल ‘ब्रेकिंग ग्राउंड’ एग्जीबिशन में 47 आर्टिस्ट ने अलग-अलग नजरिए, अनुभव और मिट्टी यानी क्ले से इतिहास और अपने रिश्ते को दिखाया है। इन इंस्टालेशन में से दो रोचक इंस्टालेशन की जानकारी-

1940 से बंधती और टूटती वादों की आस

बिहार की सड़कें हेमा मालिनी के गालों की तरह होंगी, हम दिल्ली को लंदन बनाएंगे, गरीबी हटाओ, हर नागरिक के खाते में 15 लाख रुपया जमा होंगे, 3 साल में कैंसर को हराएंगे, अमेठी को कोई सिंगापुर बनने से रोक नहीं सकता ऐसे ही कुछ झूठे और ग्लैमरस पॉलिटिकल वादों का डाइनिंग टेबल जयपुर की आर्टिस्ट शर्ली भटनागर के प्रोजेक्ट "द ब्रोकन प्रॉमिस्ड’ में देखने को मिला। उन्होंने चम्मच, प्लेट्स, फोर्क और कप के साथ क्ले से बनी डिनर टेबल सजाई है। इस इंस्टॉलेशन के जरिए दावत पर बुलाकर मुकर जाने की तुलना झूठे पॉलिटिकल वादों से की है। टेबल पर रखे टी-पॉट में एक डूपिंग स्पाउट और कप इंटरलॉक है। भटनागर ने 1940 से लेकर अब तक के फेमस पॉलिटिकल वादों को किसी नेता या पॉलिटिकल पार्टी के नाम के बिना डिनर टेबल पर प्रेजेंट किया है।

जेकेके में चल रही 80 दिवसीय सिरेमिक्स ट्राइएनियल एग्जीबिशन में दिखे क्ले में ढले संदेश और संगीत

ऑगमेंटेड रिएलिटी से सुनाई देती है पुराने शहर की चहल-पहल

डिस्क्रिपशन बॉक्स में जहां बाकी इंस्टॉलेशन के नीचे ‘डू नॉट टच' लिखा है, वहीं इस क्रिएटिविटी को छूने की गुजारिश की गई है। वो सिर्फ इसलिए क्योंकि एग्जीबिशन का यह एकमात्र इंस्टॉलेशन है जिसे देखने के साथ सुना और महसूस भी किया जा सकता है। इंग्लैंड की इनग्राइंड मर्फी ने अपने क्रिएशन ‘साउंड्स ऑफ़ द पिंक सिटी' में चाय के कपों से बिखर रही चाय को दर्शाया है। जो सेरेमिक के साथ गोल्ड लेक्चर और ट्रांसपेरेंट बोन चाइना के कॉम्बिनेशन से तैयार किया गया है। इस रोचक इंस्टॉलेशन में अगर गोल्डन हिस्से को टच किया जाए तो पुराने शहर की चहल-पहल व राजस्थानी संगीत सुनाई पड़ता है। यह ऑगमेंटेड रिएलिटी जैसी तकनीक से संभव हुआ। इस तकनीक में टच सेंसर लगाया गया है जिसे छूते ही रिकॉर्डेड आवाज सुनाई देती है।

Jaipur - क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे
X
Jaipur - क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे
Jaipur - क्ले की टेबल पर दिखाए 1940 से अब तक के झूठे पॉलिटिकल वादे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..