विज्ञापन

राजस्थान / मादा लैपर्ड 'फ्लोरा' का चार माह का शावक मृत मिला, मां की ममता उसे नहीं छोड़ पाई अकेला

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 10:21 AM IST


बच्चे के साथ मादा लैपर्ड बच्चे के साथ मादा लैपर्ड
X
बच्चे के साथ मादा लैपर्डबच्चे के साथ मादा लैपर्ड
  • comment

  • झकझोरने के बाद भी हरकत नहीं तो बच्चे को पहाड़ी पर ले गई
  • शावक की मौत की वजह हायना को माना जा रहा, आसपास मिले पगमार्क

जयपुर. झालाना में शनिवार सुबह बघेरे का शावक मर गया, लेकिन मां 'फ्लोरा' की ममता देख पर्यटकों का कलेजा भर आया। 4 महीने का शावक चामुंडा माता मंदिर के पास मृत था। घबराई मां बच्चे को मुंह में दबाकर पेड़ पर ले गई। कुछ देर उसको झकझोरा पर हरकत नहीं थी। फिर बच्चे को पहाड़ी पर ले गई। सामने जहां शावक पड़ा था, आसपास कुछ हायना के पगमार्क थे। ऐसे में मौत की एक वजह इसे माना जा रहा है। हालांकि हायना के स्वभाव मुताबिक शावक का शरीर क्षत विक्षत नहीं थी? 

खाने का बड़ा चैलेंज, हायना बड़े बघेरों को भी खदेड़ रहे

  1. झालाना में बघेरों के बढ़ते कुनबे के लिए प्रेबेस की व्यवस्था में वन विभाग फेल रहा। कुछ महीनों से हायना लेपर्ड को खदेड़ रहा है। शावक की घटना वाली जगह भी हायना के पगमार्क थे। रेंजर जनेश्वर सिंह ने मौत की एक और वजह आसपास दिखे नए नर बघेरे को भी बताया है।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन