साइको कॉलर / राजस्थान की 50 महिला प्रोफेसरों को अश्लील कॉल-मैसेज करने वाला हिसार का नाबालिग गिरफ्तार



haryana news hissar Rajasthan police caught minor accuse who sending Porn message to 50 professor
X
haryana news hissar Rajasthan police caught minor accuse who sending Porn message to 50 professor

  • नाबालिग अपनी और पिता की आईडी से विवि की महिला टीचर्स को देता था धमकियां
  • घटना के बाद बुरी तरह सहमी हुई थीं महिला प्रोफेसर्स

Jul 13, 2019, 02:05 PM IST

हिसार. राजस्थान यूनिवर्सिटी की करीब 50 महिला प्रोफेसर्स को फोन करके अश्लील बातें करने वाले साइको कॉलर को आखिरकार जयपुर कमिश्नरेट की पुलिस ने हरियाणा के हिसार में दबिश देकर पकड़ लिया। आरोपी कॉलेज के प्रोफेसर का बेटा है। उसकी उम्र करीब 16 साल है। आरोपी नेटवर्किंग और साइबर का एक्सपर्ट है। पुलिस पूछताछ कर रही है। आरोपी ने एक महिला प्रोफेसर को पार्सल भेजा था। पार्सल में क्रीम थी। उस पार्सल की पुलिस ने जांच पड़ताल की तो सामने आया कि पार्सल हिसार से बुक कराया गया था। इसके आधार पर पुलिस ने जांच पड़ताल करके आरोपी की पहचान कर ली और आरोपी को पकड़ने के लिए एक टीम भेजी गई। पुलिस टीम आरोपी को पकड़कर देर रात तक जयपुर ले आएगी।

पुलिस इन्वेस्टिगेशन इनसाइड स्टोरी; 3 स्टेप में जानें...कानून के हाथ कैसे आया

  1. स्टेप-1 : कैश ऑन डिलीवरी के पार्सल की सूचना मिली थी

    आरोपी ने राजस्थान विश्वविद्यालय की एक महिला प्रोफेसर को एप के जरिए आपत्तिजनक गिफ्ट भेजा था। इससे पहले उसने प्रोफेसर को फोन कर गिफ्ट भेजने की बात कही थी। 6 जुलाई को प्रोफेसर के घर पर पार्सल पहुंचा। यह कैश ऑन डिलीवरी था। महिला प्रोफेसर ने पार्सल लेने से मना कर दिया। जिससे पार्सल वापस कंपनी में चला गया। पार्सल के बारे में पुलिस को सूचना दी और रिपोर्ट कराई। आरोपी राजस्थान पुलिस के लिए सिरदर्द बना था।

  2. स्टेप-2 : हिसार यूनिवर्सिटी के वाई-फाई तक पहुंच गए

    पुलिस ने महिला प्रोफेसर के एड्रेस पर आए पार्सल को जब्त किया। उसमें आपत्तिजनक चीजें थीं। कैश ऑन डिलीवरी का ये आइटम हैदराबाद की कंपनी से ऑनलाइन भेजा गया था। पुलिस ने कंपनी से संपर्क किया। वहां से पुलिस ने आईपी एड्रेस खोजा। तब सामने आया कि कंपनी में जिस आइटम की बुकिंग की गई थी वह डिवाइस हिसार यूनिवर्सिटी के वाईफाई से कनेक्ट थी। इसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ।

  3. स्टेप-3 : मोबाइल का पता चलते ही आरोपी शिकंजे में

    हिसार यूनिवर्सिटी के बारे में जानकारी मिलते ही पुलिस को लग गया कि आरोपी वहीं है। पुलिस की एक टीम हिसार भेजी गई। वाई फाई कनेक्ट होने से पुलिस ने यह आसानी से पता कर लिया कि किस मोबाइल का उपयोग करके कंपनी में कैश ऑन डिलीवरी का ऑर्डर दिया गया था। मोबाइल का पता चलते ही पुलिस आरोपी तक पहुंच गई। फिर उसे जीजेयू यूनिवर्सिटी से लेकर जयपुर के लिए रवाना हो गई।

  4. पार्सल में भेजता था आपत्तिजनक वस्तुएं

    राजस्थान की यूनिवर्सिटी की 40 से ज्यादा महिला शिक्षकों ने पिछले सप्ताह जयपुर के गांधीनगर और महेश नगर थाने में शिकायत की थी कि उनके पास कोई युवक बार-बार फोन कर रहा है। इंटरनेट कॉल करके अश्लील बातें करता है और आरोपी ने कुछ महिला शिक्षकों को पार्सल भी भेजे हैं। उन पार्सल में आपत्तिजनक वस्तुएं थीं। प्रोफेसर्स ने यूनिवर्सिटी प्रशासन को भी दी तो उनके नंबर तत्काल यूनिवर्सिटी की वेबसाइट से हटाए गए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना