भरतपुर / बंद घर में तड़पते हुए भागते रहे मां-बेटा, किचन में मृत मिले; आग लगाने वाली डॉक्टर बोली- मैं तो ट्रेलर दिखा रही थी



Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
X
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan
Husband Girlfriend set on fire by wife case bharatpur rajasthan

  • राजस्थान के भरतपुर की घटना, आरोपी महिला डॉक्टर ने पति से संबंध के शक में दिया जघन्य वारदात को अंजाम
  • आरोपी महिला ने स्प्रिट डालकर घर में आग लगाई, फिर युवती और बेटे को बाहर न निकल पाए, इसलिए कुंडी बंद कर दी 

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 05:54 PM IST

भरतपुर.  यहां पॉश कॉलोनी में गुरुवार शाम महिला डॉक्टर ने डॉक्टर पति की प्रेमिका के घर आग लगा दी और बाहर से कुंडी बंद कर दी। दम घुटने से दीपा गुर्जर नाम की युवती और उसके 6 साल के बच्चे की मौत हो गई। चौंका देने वाला यह हत्याकांड अवैध संबंधों के शक में अंजाम दिया गया। आरोपी महिला डॉक्टर सीमा को इस बात का संदेह था कि पति डॉ. सुदीप के दीपा से अफेयर था। पुलिस ने फिलहाल सीमा गुप्ता और सास को गिरफ्तार कर लिया है।

 

सीमा के प्रतिशोध की आग इतनी भड़की थी कि उसने इस जघन्य वारदात को अंजाम दिया। सीमा  के तरीकों से जाहिर है कि वह दीपा को किसी भी तरह बख्शना नहीं चाहती थी। तभी तो आग लगाने के लिए वह अपने घर से ही कोल्ड ड्रिंक की बोतल में स्प्रिट लेकर दीपा के सूर्या सिटी स्थित घर पहुंची थी। इतना ही नहीं दीपा और उसका बेटा बच नहीं पाए इसलिए उसने कुंडी भी लगा दी थी। 

 

तपड़ते हुए घर में इधर-उधर भागते रहे, रसोई में मृत मिले 
आग लगने के बाद दीपा और उसका 6 साल का बेटा जान बचाने के लिए चीखते-चिल्लाते हुए इधर-उधर भागते रहे। उनकी चीख-पुकार सुन सीमा का दिल भी पसीज गया और वह भी उन्हें बचाने की गुहार लगाने लगी। लेकिन कोई भी घर में घुसने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। आग बुझाने के बाद मां-बेटे की तलाश की तो वे उस कमरे में नहीं थे, जिसमें आग लगी थी, बल्कि रसोईघर में पड़े मिले। 

 

आरोपी सीमा बोली- मैंने कई बार दीपा को समझाया था कि वह मेरे पति के संपर्क में नहीं रहे। जब वह नहीं मानी तो उसे चेतावनी देकर नौकरी से निकाल दिया। लेकिन इसके बाद भी वह चोरी-छिपे मेरे पति से मिलती-जुलती रही। इस पर भी मैंने उसे फिर समझाया और सूर्या सिटी कॉलोनी वाला मकान छोड़कर कहीं दूसरी जगह चले जाने को कहा। लेकिन, वह किसी भी कीमत पर यह मकान छोड़ने को तैयार नहीं थी।

 

डराने के लिए आई थी: सीमा
सीमा ने बताया गुरुवार को मैं ऑटो में बैठकर अपनी सास के साथ दीपा को डराने के मकसद से मकान पर आई थी। वहां दीपा से हमारी कहासुनी और झगड़ा हुआ। झगड़े के दौरान मैं अपने गुस्से पर काबू नहीं कर पाई और स्प्रिट डालकर आग लगा दी। मैंने कुंडी खोलकर उसे बचाने की भी कोशिश की। लेकिन, मैं डर गई। तब तक आग इतनी भड़क चुकी थी कि कोई कुछ नहीं कर पाया। मैं तो उसे डराने के उद्देश्य से ट्रेलर दिखाने गई थी, मुझे क्या पता था कि इतना बड़ा मामला हो जाएगा।

 

बहन व भांजे को बचाने के लिए आग लगे घर में घुसा भाई
पुलिस के मुताबिक, कमरे की बाहर से कुंडी लगी होने के कारण दीपा और उसके बेटे को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला। इस पर दीपा ने अंदर से ही मोबाइल पर अपने भाई अनुज (21) को घटना की सूचना दी। इस पर वह नीम दा गेट से बाइक पर आया और सीधा आग से घिरे घर में घुस गया। बहन और भांजे को बचाने के प्रयास में वह बुरी तरह से झुलस गया।

 

एक नवंबर को शुरू किया था सैलून और स्पा सेंटर
जिस मकान में घटना हुई, वह डॉक्टर सुदीप की पत्नी सीमा के नाम पर है। सुदीप ने दीपा को इसी मकान में किरायेदार बताकर रखा हुआ था। सीमा को इसका पता ही नहीं चल पाया था। हाल ही 1 नवंबर को ही दीपा ने इसी मकान में आयशा सैलून एंड स्पा सेंटर खोला था। इसके जो निमंत्रण-पत्र छपे, उसमें डॉक्टर सुदीप का नाम भी अंकित था। इसके बाद सीमा को इसकी जानकारी हुई।

 

परिवार से था दीपा का विवाद
पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक दीपा और उसकी बहन अनीता दोनों का विवाह उत्तर प्रदेश के जगनेर में हुआ था। लेकिन, ससुराल वालों से विवाद के कारण वह भरतपुर में ही रह रही थी। दीपा का 6 वर्षीय बेटा शौर्ट पटेल यहां मार्डन स्कूल की दूसरी कक्षा में पढ़ता था। 

 

वीडियो : आदर्श मधुकर

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना