टोंक / बजरी माफिया को छुड़ाने के लिए ग्रामीणों ने किया पुलिस पर हमला, थानाप्रभारी समेत चार पुलिसकर्मी चोटिल



बजरी माफिया को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला करती महिलाएं बजरी माफिया को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला करती महिलाएं
थानाप्रभारी बीएल मीणा का चैकअप करते डॉक्टर थानाप्रभारी बीएल मीणा का चैकअप करते डॉक्टर
आरोपी ट्रक चालक को पकड़कर ले जाती निवाई पुलिस आरोपी ट्रक चालक को पकड़कर ले जाती निवाई पुलिस
बजरी से भरे ट्रक को पुलिस ने जब्त कर मुकदमा दर्ज किया बजरी से भरे ट्रक को पुलिस ने जब्त कर मुकदमा दर्ज किया
X
बजरी माफिया को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला करती महिलाएंबजरी माफिया को छुड़ाने के लिए पुलिस पर हमला करती महिलाएं
थानाप्रभारी बीएल मीणा का चैकअप करते डॉक्टरथानाप्रभारी बीएल मीणा का चैकअप करते डॉक्टर
आरोपी ट्रक चालक को पकड़कर ले जाती निवाई पुलिसआरोपी ट्रक चालक को पकड़कर ले जाती निवाई पुलिस
बजरी से भरे ट्रक को पुलिस ने जब्त कर मुकदमा दर्ज कियाबजरी से भरे ट्रक को पुलिस ने जब्त कर मुकदमा दर्ज किया

  • टोंक जिले में निवाई क्षेत्र में की घटना, एक ट्रक चालक को पकड़ा
  • बनास नदी से अवैध बजरी भरकर जयपुर आ रहे थे तीन-चार ट्रक

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 05:01 PM IST

टोंक. जिले के निवाई कस्बे में शुक्रवार को स्थानीय ग्रामीणों ने अवैध बजरी खनन से जुड़े एक आरोपी को छुड़ाने के लिए पुलिस टीम पर हमला कर दिया। उन्होंने पुलिस पर पत्थर फेंके, लाठी डंडे बरसाए। जिसमें निवाई थानाप्रभारी बीएल मीणा सहित चार पुलिसकर्मियों के चोटें आई। चोटिल हुए पुलिसकर्मियों को हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां उनका प्राथमिक उपचार किया गया। इस संबंध में थानाप्रभारी बीएल मीणा ने हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी है। 

 

निवाई थानाप्रभारी बनवारीलाल मीणा ने बताया कि शुक्रवार सुबह सदर निवाई क्षेत्र से सूचना मिली थी अवैध खनन से निकली बजरी से भरे दो-तीन ट्रक टोंक से जयपुर की तरफ जा रहे है। तब थानाप्रभारी बीएल मीणा जाब्ते के साथ रवाना हुए। हाइवे पर ट्रकों का पीछा करना शुरु किया। उन्हें रुकने का ईशारा किया।

 

पुलिस ने लगातार पीछा किया। तब पुलिस टीम मुंडिया गांव के पास बाड़ गांव पहुंची। जहां चालक ट्रक को स्टार्ट हालत में छोड़कर भागने लगा। तब पुलिस टीम ने पीछा कर एक आरोपी को पकड़ लिया। पुलिस उसे लेकर जाने लगी।

 

तभी स्थानीय 15-20 महिला-पुरुषों ने पुलिस टीम पर पत्थर व लाठी डंडों से हमला कर आरोपी को छुड़ा लिया। इस बीच बजरी के ट्रक का एस्कार्ट कर रही थार गाड़ी ने पुलिस की गाड़ी के आगे लगा दिया। तब पुलिस ने बड़ली गांव में फिर से पीछा कर ट्रक को रुकवा लिया। जहां से फिर से आरोपी चालक को पकड़ लिया। 
खबर व फोटो: मनोज गुप्ता, विनोद शर्मा

COMMENT