टोंक / बनास नदी में नहाते वक्त बड़ी बहन ने छोटे भाई व बहन को डूबने से बचाया, खुद जिंदगी की जंग हारी



मृतका सुमन कीर (फाइल फोटो) मृतका सुमन कीर (फाइल फोटो)
नदी से सुमन के शव को बाहर लेकर आते स्थानीय युवक नदी से सुमन के शव को बाहर लेकर आते स्थानीय युवक
X
मृतका सुमन कीर (फाइल फोटो)मृतका सुमन कीर (फाइल फोटो)
नदी से सुमन के शव को बाहर लेकर आते स्थानीय युवकनदी से सुमन के शव को बाहर लेकर आते स्थानीय युवक

  • दूनी थाना क्षेत्र के बंथली में हुआ हादसा
  • गहराई में डूबने लगे दोनों छोटे भाई बहन

 

Dainik Bhaskar

Aug 22, 2019, 08:13 PM IST

भागीरथ बैरागी/ (बंथली)टोंक. जिले में दूनी थाना क्षेत्र के बंथली में गुरूवार को बनास नदी में नहाने उतरे छोटे भाई व बहन की जिंदगी बचाने के प्रयास में बड़ी बहन की नदी में डूबने से मौत हो गई। दूनी थानाप्रभारी नरेश कंवर ने बताया कि मृतका सुमन कीर (17) 12 वीं कक्षा की छात्रा थी। वह मूल रुप से दूनी क्षेत्र निवासी मनोहर कीर की बेटी थी। जो कि पिछले करीब चार साल से बंथली गांव में रह रहे है।

 

गुरूवार को सुमन अपने 7 वर्षीय भाई चंद्रवीर और 12 वर्षीया बहन मुस्कान के साथ गांव से निकल रही बनास नदी में नहाने गए थे। उनके साथ गांव के ही अन्य बच्चे भी थे। अचानक नदी के बहाव क्षेत्र में सुमन के दोनों भाई बहन डूबने लगे। यह देखकर सुमन घबरा गई। वह हौंसला दिखाते हुए अपने भाई बहन को बचाने के लिए नदी में गहराई की तरफ चली गई। वह उन्हें बचाने का प्रयास करने लगी।

 

इस बीच नदी के किनारे पर मौजूद बच्चों ने शोर मचाया। इससे आसपास मछली पकड़ने युवक पहुंच गए। जिन्होंने छलांग लगाकर सुमन के भाई चंद्रवीर व मुस्कान को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। लेकिन सुमन ने दम तोड़ दिया। स्थानीय युवकों ने मशक्कत कर नदी में डूबी सुमन को बाहर निकाला। इसके बाद शव को मोर्चरी पहुंचाया। जहां रोते बिलखते परिजन भी पहुंच गए।

 

घटना का पता चलने पर देवली उपखंड अधिकारी अशोक कुमार त्यागी, देवली तहसीलदार महेश कुमार जोशी, दूनी तहसीलदार पृथ्वीराज मीणा सहित दूनी थानाप्रभारी नरेश कंवर, पूर्व सरपंच सत्यनारायण माली व पूर्व उप सरपंच प्रभुलाल माली मौके पर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा गया। सुमन की मौत से गमजदा गांव में चूल्हे तक नहीं जले। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना