पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

किसानों के करोड़ों रुपए का प्रीमियम डकार गई बीमा कंपनियां, क्लेम अटके

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसान (फाइल)।
  • सहकारी बैंकों से ऋण लेने वाले किसानों को मिलता है 10 लाख का दुर्घटना बीमा
  • क्लेम सेटलमेंट के मामले निपटाने के लिए अब सलाहकार की सलाह पर चलेगी सरकार

जयपुर. दुर्घटना बीमा के नाम पर बीमा कंपनियां किसानों के करोड़ों रुपए डकार गईं। जब क्लेम अदा करने की बारी आई तो कंपनियों ने पल्ला झाड़ लिया। सहकारी बैंकों से ऋण लेने वाले किसानों के लिए 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा किया जाता है। इसका प्रीमियम किसानों की ऋण राशि में से ही समायोजित किया जाता है। लेकिन क्लेम सेटलमेंट के समय से बीमा कंपनियां आना-कानी करने लग जाती हैं।


किसान ठगा महसूस करता है। करीब 5 हजार से ज्यादा किसानों के बीमा क्लेम बीमा कंपनियों के पास सालों से पेंडिंग हैं। इसमें सरकारी क्षेत्र से लेकर निजी क्षेत्र तक की बीमा कंपनियां शामिल हैं। अपेक्स बैंक के एमडी इंदरसिंह ने बताया कि ओपन टेंडर होने की वजह से छोटी बीमा कंपनियां कम रेट पर बीमा करने के लिए तैयार हो जाती हैं लेकिन जब बीमा क्लेम सेटल करने की बारी आती है तो ये कंपनियां ना नुकुर करने लगती हैं।


पिछली भाजपा सरकार में श्री राम इंश्योरेंस को किसानों का दुर्घटना बीमा करने की जिम्मेदारी दी गई थी। कंपनी को 29 करोड़ रुपए का प्रीमियम जमा करवाया गया। लेकिन बीमा क्लेम प्रीमियम की राशि से कई गुना ज्यादा आ गया। अब कंपनी क्लेम निस्तारण में टालमटोल कर रही है। अब तक कंपनी ने सिर्फ 11 करोड़ रुपए के 115 क्लेम ही निपटाए हैं जबकि उसके पास 575 क्लेम गए थे।


इंदर सिंह ने बताया कि अभी तो करीब 700 क्लेम पाइपलाइन में और हैं। कंपनी को करीब 100 करोड़ रुपए का क्लेम चुकाना है। कंपनी की तरफ से ना नुकर किए जाने के बाद अब सहकारिता विभाग की ओर से मामले की जांच बैठाई गई है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। वैसे भी आज आपको हर काम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। इसलिए पूरी मेहनत से अपने कार्य को संपन्न करें। सामाजिक गतिविधियों में भी आप...

और पढ़ें