Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» IRS Women Officer Suicide Case

महिला आईआरएस अफसर फांसी पर झूल रही थी; डेढ़ साल का बेटा बार-बार चिल्ला रहा था...मम्मी रेस्ट कर रही हैं...प्लीज मुझे उससे मिला दो

गृहकलह से तंग आकर किया सुसाइड; एफएसएल ने 7 घंटे पुरानी मौत मानीं, परिजनों ने कहा- दो घंटे पहले की घटना

Bhaskar News | Last Modified - Aug 08, 2018, 07:00 AM IST

महिला आईआरएस अफसर फांसी पर झूल रही थी; डेढ़ साल का बेटा बार-बार चिल्ला रहा था...मम्मी रेस्ट कर रही हैं...प्लीज मुझे उससे मिला दो

जयपुर.बजाजनगर महालेखाकार कॉलोनी में आईआरएस बिन्नी शर्मा के सुसाइड से बजाज नगर एनक्लेव कॉलोनी और विभाग में हर कोई स्तब्ध है। हर किसी की आंखें नम थी। मकान नंबर वी-7 में बिन्नी शर्मा के परिजनों को सांत्वना देने आई भीड़ में चाहत का मासूम चेहरा भी था। उसे तो यह भी पता नहीं था कि मां अब नहीं रही। बिन्नी के बड़े बेटे चाहत वालिया का बुरा हाल था।

घर में जो भी परिचित आता वह उससे लिपटकर कहता - मेरी मम्मी रूम में रेस्ट कर रही हैं, मुझे उनसे मिलना है। मुझे मेरी मम्मी के पास ले चलो। जब बिन्नी का शव मुर्दाघर से घर पर पहुंचा तो चाहत को परिजन बाहर ले आए। परिजन चाहत को यह कहकर दिलासा देते रहे मम्मी बीमार है, डॉक्टर उन्हें देखने आया है। घर से बिन्नी की अर्थी उठी तो चाहत दौड़कर शव के पास पहुंच गया। वह परिजनों पर चिल्लाने लगा-मेरी मम्मी को मत ले जाओ, मैं भी साथ चलूंगा। चाहत की हालत देखकर वहां मौजूद हर शख्स की आंखें भर आई। जैसी ही अर्थी उठी, घर में कोहराम सा मच गया।

डेढ़ साल के बेटे को समझाना हो रहा था मुश्किल:बिन्नी के डेढ़ साल के मुकुंद को तो अभी जिंदगी और माैत का मतलब भी नहीं पता। जब भी मुकुंद की निगाह कमरे में रखे अपनी मां के शव पर जाती उसके मुंह से तेज चीख निकल पड़ती। बिलखते मुकुंद को कभी दादी तो कभी मौसी गोद में लेकर शांत कराती। दूसरी ओर, कॉलोनी के लोगों ने बताया बजाजनगर थाना पुलिस सुबह 7 बजे बिन्नी के घर पर पहुंची तो जानकारी मिली।

पति आईएएस, चंडीगढ़ ऑडिट विभाग मे तैनात:आईआरएस अफसर बिन्नी शर्मा (35) ने पारिवारिक कलह से परेशान होकर सोमवार देर रात को फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था। बिन्नी के पति गुरुप्रीत वालिया आईएएस अफसर हैं और चंड़ीगढ़ में ऑडिट विभाग में कार्यरत हैं। उनकी 9 साल पहले शादी हुई थी। बिन्नी शर्मा जयपुर में जीएसटी में डिप्टी कमिश्नर के पद पर कार्यरत थीं। वे पिछले कई माह से तनाव में थीं। वे अपनी मां मधू शर्मा, 8 साल के बेटे चाहत व डेढ़ साल के मुकंद के साथ जयपुर में रहती थीं। उनका पीहर अजमेर में था।

पुलिस को मिला चार लाइन का सुसाइड नोट :मृतका के बेडरूम में पुलिस को चार लाइन का अंग्रेजी में लिखा हुआ एक सुसाइड नोट भी मिला है। बिन्नी शर्मा ने फांसी लगाने से पहले लिखा था कि - मैं झूठ और फरेब से काफी परेशान हो गई हूं। पति और सास ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी है। भगवान मेरे बच्चों का ध्यान रखेंगे, मैं जा रही हूं। पुलिस सुसाइड नोट बरामद कर मामले की जांच कर रही है। थाना प्रभारी रायसर सिंह ने बताया कि अभी तक मृतका के परिजनों की ओर से पुलिस को कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। ऐसे में पुलिस मर्ग दर्ज कर जांच कर रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×