डेढ़ साल में 1 लाख किलो नकली पनीर बेच चुका बिजनेसमैन, शायद ही कोई खाने से बचा हो...  / डेढ़ साल में 1 लाख किलो नकली पनीर बेच चुका बिजनेसमैन, शायद ही कोई खाने से बचा हो... 

असली दिखाते-नकली बेचते, बादाम भी बदनाम दाल-सौंफ के बाद मिट्‌टी-रंग से चमकाई बादाम 

संदीप शर्मा/भगवान चौधरी

Feb 14, 2019, 05:39 PM IST
Jaipur Rajasthan News Story of food adulteration paneer and mawa

जयपुर खाने-पीने की चीजों में की जाने मिलावट को भास्कर के सबसे बड़े खुलासे के बाद चेते चिकित्सा विभाग ने बुधवार को लगातार आठवें दिन प्रदेश में मिलावट पर छापा मारा गया। इस बार नकली पनीर पकड़ा गया। यह आज तक की यह सबसे बड़ी कार्रवाई है। 9 आइस बॉक्स में भरकर रखे गए 1035 किलोग्राम पनीर काे नष्ट कराया गया। कृष्णा विहार में कोमल पनीर के मालिक बिल्लू ने चिकित्सा विभाग की टीम और भास्कर रिपोर्टर के सामने स्वीकार किया कि पिछले डेढ़ साल में एक लाख किलोग्राम नकली और घटिया पनीर सप्लाई कर चुका है।

फिलहाल चिकित्सा विभाग की सेंट्रल टीम ने पनीर के सैंपल जब्त कर लिए हैं और पूरे पनीर को नष्ट कराया। फर्म के पास फूड लाइसेंस भी नहीं था। गौरतलब है कि इससे पहले पांच साल से भी अधिक समय पहले 750 किलोग्राम नकली पनीर पकड़ा गया था। भास्कर की ओर से मुद्दा उठाने के बाद चिकित्सा विभाग और दैनिक भास्कर की टीम ने संयुक्त कार्रवाई की।


कोमल पनीर का दड़बे-सा गोदाम

बल्लू ने जो बताया- रोजाना 200 किलो तक गार्डन कैफे, आयात और हेरिटेज होटल सहित आसपास के होटलों और हलवाइयों को सप्लाई करता था। बल्लू ब्रदर्स एक माह में 6000 किलो और डेढ़ साल में 1 लाख 8 हजार किलो नकली पनीर बेच चुका है। यह वह आंकड़ा है जो सप्लायर मान रहे हैं।


असली दिखाते-नकली बेचते

गोदाम पर दिखावे के लिए असली पनीर भी रखा था। भास्कर और विभाग की टीम को वही दिखाया। चखने पर भी असली ही लगा। गोदाम की जांच की तो खूब पनीर मिला। पूछने पर ही बल्लू के भाई ने बताया कि हारून ही रिफाइंड और पाउडर से बनाकर भेजता है।


बादाम भी बदनाम दाल-सौंफ के बाद मिट्‌टी-रंग से चमकाई बादाम


पिछले सात दिनों की कार्रवाई के दौरान तीन बार 20 से 30 रुपए किलो भाव की कसेरी दाल और 25 रुपए किलो की बिंधी पीली सौंफ को चमकाते पकड़ा गया था। इसमें अब बादाम भी शामिल हो गई है।


आठवें दिन भास्कर और चिकित्सा विभाग की संयुक्त टीम को मुरलीपुरा स्थित यूबी ऑवरसीज पर जयपुर प्रथम की टीम को 600 किलो खराब बादाम मिली। इसे चमकाया जा रहा था। साथ ही बेचने के लिए तैयार रखी 700 किलो दूषित बादाम के पैकेट मिले। टीम ने दो सैंपल लेकर 1300 किलो बादाम को सीज किया। सीएमएचओ प्रथम नरोत्तम शर्मा ने बताया कि फर्म मालिक बंशीलाल है।


क्या मिलाते हैं हाइड्रो केमिकल, पीली मिटटी और बुरादे की पेस्ट मिली। इन सबसे बादाम को चमकाया जा रहा था। सैंपल लेकर माल जब्त कर लिया गया है।

X
Jaipur Rajasthan News Story of food adulteration paneer and mawa
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना