जयपुर / ~4.25 करोड़ के आभूषण-रत्नों की आज खुली नीलामी



Jewelry-gems Auction today
X
Jewelry-gems Auction today

  • आयकर में जब्त जैम्स-ज्वैलरी की सबसे बड़ी नीलामी
  • शहर के 50 से ज्यादा ज्वैलर्स नीलामी में हिस्सा लेंगे

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2019, 12:36 AM IST

जयपुर. आठ साल पहले दो लॉकर्स से जब्त करीब 4.25 करोड़ रुपए कीमत की ज्वैलरी और कीमती रत्नों की बुधवार को आयकर विभाग की ओर से नीलामी की जाएगी। इस ज्वैलरी की खरीदारी के लिए अहमदाबाद, सूरत, बेंगलुरू व मुंबई जैसे शहरों के ज्वैलर्स के आने की भी संभावना है।

 

स्टैच्यू सर्किल स्थित आयकर विभाग कार्यालय में सुबह 11 बजे से होने  वाली इस खुली नीलामी में आम आदमी भी इस ज्वैलरी को खरीद सकता है। इसके लिए कोई अग्रिम राशि जमा नहीं करानी पड़ेगी। लेकिन सफल बोलीदाता को नीलामी के तुरंत बाद खरीद गई ज्वैलरी की कीमत चुकानी पड़ेगी। आयकर विभाग के मुताबिक 166 आयटमों की नीलामी होगी। इनकी दो रजिस्टर्ड वैल्यूअर से वैल्यूएशन कराई गई है। इस वैल्यूएशन से 15 फीसदी कम रिजर्व प्राइज रखी जाएगी।


आयकर विभाग के अधिकारियों के मुताबिक देश में पहली बार जब्त की गई ज्वैलरी की इतने बड़े पैमाने पर नीलामी की जा रही है। ज्वैलरी व रंगीन रत्नों की नीलामी के लिए जयपुर आयकर कार्यालय ने 75  लोगों की एक टीम बनाई है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। यह ज्वैलरी व कीमती रत्न 2011 में गणपति प्लाजा स्थित गणपति लॉकर्स के दो लॉकर्स से जब्त किए गए थे। बेनामी होने की वजह से इस ज्वैलरी की नीलामी की जा रही है।

 

नीलामी के लिए जयपुर के ज्वैलर्स के साथ आम लोगों को भी आमंत्रित किया गया है। उधर, सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी जयपुर के अध्यक्ष कैलाश मित्तल ने बताया कि उनको आयकर विभाग ने ज्वैलरी के नीलामी के संदर्भ में बुलाया है। शहर के 50 से ज्यादा ज्वैलर्स ज्वैलरी की नीलामी में हिस्सा लेंगे। हालांकि आयकर विभाग ने नीलामी की जाने वाली ज्वैलरी व रंगीन रत्नों की आरक्षित कीमत को खुलासा नहीं किया है। 

 

आप भी ले सकते हैं नीलामी में हिस्सा

 

}नीलामी में हिस्सा लेने के लिए किसी तरह के रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं
}कोई भी भारतीय नागरिक ले सकता है हिस्सा
}किसी तरह की अग्रिम मार्जिन मनी जमा कराना जरूरी नहीं
}नीलामी से पहले ज्वैलरी व कीमत रत्नों को देखने की अनुमति
}नीलामी से पहले आयटम केटेगरी के तहत रिजर्व प्राइज की घोषणा
}सोना-चांदी व कीमती रत्नों की बिकवाली लॉट के हिसाब से
}सफल बोलीदाता को नीलामी के बाद तुरंत आरटीजीएस, डीडी या नेटबैंकिंग से करना होगा भुगतान। इसके बाद ज्वैलरी-रत्न बोलीदाता के।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना