जयपुर

  • Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • Jaipur - मॉनिटरिंग की कमी, 4 साल में 6,301 एचआईवी मरीजों की मौत, 331 बच्चे
--Advertisement--

मॉनिटरिंग की कमी, 4 साल में 6,301 एचआईवी मरीजों की मौत, 331 बच्चे

चिंताजनक तो यह- मरीज घट रहे, लेकिन मौतों का आंकड़ा 17 से बढ़कर 25 प्रतिशत तक पहुंचा... सवालों के घेरे में एड्स नियंत्रण...

Danik Bhaskar

Sep 14, 2018, 04:15 AM IST
चिंताजनक तो यह- मरीज घट रहे, लेकिन मौतों का आंकड़ा 17 से बढ़कर 25 प्रतिशत तक पहुंचा... सवालों के घेरे में एड्स नियंत्रण कार्यक्रम

भास्कर न्यूज | जयपुर

चिकित्सा विभाग की लापरवाही और मॉनिटरिंग की कमी के चले जानलेवा वायरस के साथ जी रहे 30 हजार 579 एचआईवी के मरीजों में से पिछले 4 साल में 6 हजार 301 लोग मौत के मुंह में चले गए। एचआईवी संक्रमण से पुरुष व महिलाओं की ही नहीं बल्कि चार साल में 331 बच्चों की मौत भी हुई है। हैरानी यह है कि एचआईवी पॉजिटिव मरीजों की संख्या घटने के बावजूद मरने वाले मरीजों का प्रतिशत लगातार बढ़ रहा है। वर्ष 2013-14 में जहां संक्रमित मरीजों में से करीब 17 प्रतिशत की मौत हुई थी, वहीं वर्ष 2016-17 में मौत का यह आंकड़ा 25 प्रतिशत के करीब जा पहुंचा है। यही स्थिति 14 साल तक की उम्र के बच्चों को लेकर मरीज घटने के बावजूद मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। ये बढ़ते आंकड़े चिकित्सा विभाग के एड्स नियंत्रण कार्यक्रम पर सवाल खड़े कर रहे हैं। इस काम के लिए केंद्र से भी हर साल 20-25 करोड़ रुपए चिकित्सा विभाग को मिलते हैं।

बाल संरक्षण आयोग के निर्देश के बावजूद पालनहार योजना से वंचित

बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी ने करीब 2 माह पहले निदेशक (एड्स) डॉ.एस.एस.चौहान को राजस्थान के एचआईवी संक्रमित व प्रभावित समस्त बच्चों को पालनहार योजना से जोड़ने के निर्देश दिए थे। इन निर्देशों की आज तक पालना नहीं हुई है। इस वजह से सरकार की ओर से हर माह मिलने वाली एक हजार रुपए की राशि से ये वंचित हो रहे हैं।

मौत के कारण

विशेषज्ञ के अनुसार एचआईवी के मरीजों की अस्पतालों में समय पर सर्जरी नहीं होना, वायरल लोड टेस्ट सुविधा नहीं, नियमित दवा नहीं लेना, प्रॉपर काउंसलिंग नहीं होना, मॉनिटरिंग का अभाव, प्रशिक्षित डॉक्टरों की कमी, रजिस्टर्ड मरीजों का फॉलोअप नहीं, सरकार की अनदेखी, जागरूकता की कमी आदि।

किस साल कितने पॉजिटिव

वर्ष पुरुष महिला बच्चे

2013-14 4271 3098 541

2014-15 4415 3143 576

2015-16 4087 2898 502

2016-17 3904 2678 466

किस साल कितनी मौत

वर्ष पुरुष महिला बच्चे

2013-14 871 397 57

2014-15 1073 478 77

2015-16 1041 494 85

2016-17 1093 523 92



Click to listen..