• Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • Jaipur - लेट फीस के Rs.450 बकाया, प्रेप की बच्ची को स्कूल से निकाला
--Advertisement--

लेट फीस के Rs.450 बकाया, प्रेप की बच्ची को स्कूल से निकाला

जयपुर | अभिभावक लेट फीस के 450 रुपए नहीं चुका पाए तो विद्याधर नगर स्थित जयपुर स्कूल ने प्रेप कक्षा की एक बच्ची को...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:05 AM IST
जयपुर | अभिभावक लेट फीस के 450 रुपए नहीं चुका पाए तो विद्याधर नगर स्थित जयपुर स्कूल ने प्रेप कक्षा की एक बच्ची को स्कूल से निकाल दिया। अभिभावक ने जब इसकी शिकायत बाल अधिकार संरक्षण आयोग से की। स्कूल प्रशासन ने आयोग को भी गुमराह किया। आयोग के समक्ष तो स्कूल प्रबंधन ने स्वीकार कर लिया कि 450 रुपए लेट फीस जमा हो गई तो बच्ची को स्कूल में वापस ले लिया जाएगा। लेकिन स्कूल प्रबंधन ने लेट फीस पर लेट फीस जोड़ते हुए 1550 रुपए बकाया निकाल दिया। स्कूल प्रबंधन की इस हरकत से परेशान अभिभावक ने अब फिर से आयोग में न्याय की गुहार लगाई है। अप्रैल में स्कूल की फीस बढ़ोतरी का विरोध किया था। शिक्षा विभाग और बाल आयोग में स्कूल की शिकायत की थी। कहीं से भी राहत नहीं मिलने पर अभिभावक इस मामले पर कोर्ट में चले गए थे।

स्कूल प्रिंसिपल रेखा नरूला का कहना है कि 25-30 पेरेंट्स हैं जो फीस को लेकर आंदोलन कर रहे थे, वे ही फीस जमा नहीं करा रहे। हमारे यहां समय पर फीस जमा नहीं कराने पर पेनल्टी लगती है। 31 अगस्त तक पूरी फीस जमा नहीं होती है तो विद्यार्थी का नाम काट दिया जाता है।

यह है मामला : केस-1 - अभिषेक त्रिवेदी की बेटी स्कूल प्रेप कक्षा में पढ़ती है। 10 जुलाई को फीस की किस्त के 12 हजार रुपए जमा कराने थे। 10 जुलाई को त्रिवेदी ने स्कूल में 1 हजार रुपए जमा कराते हुए शेष 11 हजार रुपए की राशि अगले 10 दिन में जमा कराने का पत्र दिया। 19 जुलाई को शेष राशि जमा करा दी। स्कूल ने 10 से 19 जुलाई की 50 रुपए प्रतिदिन की लेट फीस लगा दी। 21 अगस्त को फिर से 450 रुपए बकाया का नोटिस दिया और 4 सितंबर को बच्ची को स्कूल से निकाल दिया। बाल आयोग में शिकायत की गई। 10 सितंबर को दोनों को तलब किया गया। तब स्कूल प्रबंधन ने 450 रुपए जमा करके बच्ची को वापस स्कूल में लेने की बात स्वीकार कर ली लेकिन 11 सितंबर को लेट फीस की राशि 10 अगस्त तक की जोड़ ली गई और कुल 1550 रुपए बकाया निकाल दिया।