Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के कारण नहीं मिल रहा बीसलपुर पेयजल योजना का लाभ

जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के कारण नहीं मिल रहा बीसलपुर पेयजल योजना का लाभ

कस्बे सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में पेयजल व्यवस्था पूरी तरह से लड़ खड़ा चुकी हैं। पानी के लिए मवेशी दर दर भटक...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:20 AM IST

जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के कारण नहीं मिल रहा बीसलपुर पेयजल योजना का लाभ
कस्बे सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में पेयजल व्यवस्था पूरी तरह से लड़ खड़ा चुकी हैं। पानी के लिए मवेशी दर दर भटक रहे हैं तो आम जन भी पानी का इधर उधर से जुगाड़ करके कंठ गीला कर रहा है। पेयजल व्यवस्था हेतु कस्बे में 25 टैंकर लगाए गए थे, लेकिन सही क्रियान्विति के अभाव में इन टैंकरों से कोई खास पेयजल व्यवस्था पर फर्क नहीं पड़ रहा हैं। ऐसे में टैंकर व्यवस्था ऊंट के मुंह में जीरा वाली कहावत बनकर चरितार्थ हो रही है। ग्रामीण अंचल में पेयजल का एकमात्र स्रोत हैंडपंप भी अब समय पर ठीक नहीं हो रहे हैं। पाइपों के अभाव में हैंड़पंप हवा फैंक रहे हैं। बार-बार शिकायतों के बावजूद भी मिस्त्री हैंड़पंप ठीक नहीं कर रहे हैं। क्षेत्र के अधिकतर हैंडपंपों में पाइप लाइन डाले जाने की आवश्यकता है। पंचायत समिति के निकट पवन माथुर के मकान के पास लगे हैंड़पंप में जंग युक्त थोड़ा-थोड़ा पानी आ रहा है। जिससे बालिका स्कूल में पढ़ने वाली बालिकाएं प्यास बुझा रही है। जंग युक्त पानी पीने से इन बालिकाओं के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। अन्य मोहल्लों में भी लोग मटमैले पानी को पी रहे हैं।

डाक बंगला के निकट बनाई गई पानी की टंकी

बीसलपुर पेयजल योजना कार्य अधुरा रहने से बनी है समस्या

क्षेत्र की सबसे बड़ी बीसलपुर पेयजल योजना का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। बीच में थोड़ी सी पाइप लाइन बिछाने के खातिर क्षेत्रफल को बीसलपुर पेयजल योजना का पानी नसीब नहीं हो रहा है। सबसे खास बात तो यह है कि कस्बे सहित क्षेत्रीय अधिकतर भाजपा कार्यकर्ता वर्तमान विधायक से दूरियां बना रखी हैं। जिसके चलते विधायक भी इस योजना के प्रति गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं।

जनप्रतिनिधियों से उठने लगा है जनता का विश्वास

कस्बे के लोग पीने के लिए पर्याप्त पानी नहीं मिलने से काफी नाराज है। उनका अब न तो जनप्रतिनिधियों पर विश्वास रहा और ना ही सरकारी कारिंदों पर। लोगों का आरोप है कि जनप्रतिनिधियों का दबाव अधिकारियों पर नहीं होने के कारण अधिकारी आमजन की सुनवाई नहीं कर रहे हैं। जिससे गंभीर पेयजल संकट की समस्या बनी हुई है। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एम. लइक खान का कहना है कि भाजपा की गुटबाजी चलते इस योजना का लाभ आमजन को नहीं मिल पा रहा है। वर्तमान विधायक से भाजपा के कार्यकर्ता ही नाराज हैं। भाजपा देहात मंडल महामंत्री पवन पारीक का कहना है कि बीसलपुर पेयजल योजना को लेकर विधायक राजेंद्र गुर्जर गंभीर हैं तथा क्षेत्रवासियों को बीसलपुर का

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×