जयपुर

--Advertisement--

पहचान खो रहा है बालेर के नैनीताल का प्राचीन महल, दुर्दशा का शिकार

कस्बे का ह्रदय कहे जाने वाले कस्बे के नैनीताल की पाळ पर स्थित प्राचीन महल जर्जर होकर अपनी बदहाली पर आंसू बहाता नजर...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:25 AM IST
पहचान खो रहा है बालेर के नैनीताल का प्राचीन महल, दुर्दशा का शिकार
कस्बे का ह्रदय कहे जाने वाले कस्बे के नैनीताल की पाळ पर स्थित प्राचीन महल जर्जर होकर अपनी बदहाली पर आंसू बहाता नजर आ रहा है। कस्बे सहित निकटवर्ती गांवों के लोग यहां आकर नैनीताल की पाळ पर स्थित इस महल से तालाब में छलांग लगाकर लुत्फ उठाते हैं। यहां आने वाले लोगों का ध्यान भी यहां स्थित प्राचीन महल अपनी ओर आकर्षित करता है। लेकिन कई वर्षों से इसकी कोई सुध लेने वाला नजर नहीं आ रहा है, जिसके चलते इसकी हालत दिन प्रतिदिन खस्ता हो रही है। और तो और इसके ऊपर चढ़ कर बारिस के मौसम में छलांग लगाने वाले युवाओं के लिए भी यह जोखिम भरा साबित होता है। कस्बे सहित निकटवर्ती गांवों के लोगों ने इसके जीर्णोद्धार की मांग प्रशासन से की है।

खंडार पंचायत समिति के अंतर्गत बालेर कस्बे का नैनीताल समूचे क्षेत्र में अपनी खास पहचान रखता है। लेकिन जनप्रतिनिधियों द्वारा इसको आदर्श तालाब घोषित करवाने व इसके जीर्णोद्धार के लिए कोई खास पहल नहीं की गई है, जिसके चलते यह अपनी पहचान व वजूद खोता दिखाई दे रहा है।

बालेर. कस्बे के नैनीताल की पाळ पर स्थित जीर्णशीर्ण होता प्राचीन महल, जहां बारिश के मौसम में लबालब भरने के बाद ऐसे लुत्फ उठाते हैं लोग।

X
पहचान खो रहा है बालेर के नैनीताल का प्राचीन महल, दुर्दशा का शिकार
Click to listen..