• Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • अक्षया तृतीया कल, शादियों के साथ मांगलिक कार्यों का होगा आगाज
--Advertisement--

अक्षया तृतीया कल, शादियों के साथ मांगलिक कार्यों का होगा आगाज

नगर संवाददाता | गंगापुर सिटी। 18 अप्रैल को सर्वार्थ सिद्ध योग में आ रही अक्षय तृतीया के अबूझ मुहूर्त से शादियों...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:15 AM IST
नगर संवाददाता | गंगापुर सिटी।

18 अप्रैल को सर्वार्थ सिद्ध योग में आ रही अक्षय तृतीया के अबूझ मुहूर्त से शादियों सहित अन्य मांगलिक कार्यों का शुभारंभ हो जाएगा। फिलहाल मलमास चलने से शुभ काम रुके हैं, 14 अप्रैल तक मीन संक्रांति का मलमास होने से शादियों एवं अन्य शुभ कार्यों के लिए श्रेष्ठ मुहूर्त नहीं बन पा रहे लेकिन अब अक्षय तृतीया पर 18 अप्रैल से जुलाई तक इस बार विभिन्न तारीखों में शादि के लिए कई श्रेष्ठ मुहूर्त आएंगे।

पं. रामेश्वर शास्त्री के अनुसार शादियां 18 अप्रैल को अक्षय तृतीया से शुरू होंगी। इसके पहले एक भी श्रेष्ठ मुहूर्त नहीं है। इस बार अक्षय तृतीया भी खास है क्योंकि इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग सुबह 6:06 से रात 8:10 बजे तक रहेगा। इसमें शादियां ही नहीं बाजार से खरीदारी भी काफी शुभ रहेगी। इसके अलावा सूर्य उच्च राशि मेष व चंद्रमा भी उच्च राशि वृष में रहेंगे। सूर्य-चंद्रमा का उच्च होना भी शुभता का प्रतीक है।

14 मार्च को मलमास के चलते बंद हो गए थे शुभ कार्य

14 मार्च को मलमास लगने के साथ ही शादियों सहित अन्य शुभ कार्य बंद हो गए। 14 अप्रैल तक मलमास रहा और लेकिन 14 से 18 तक कोई श्रेष्ठ मुहूर्त नहीं है। अब 18 अप्रैल को अक्षय तृतीया के अबूझ मुहूर्त के साथ शादियों की शहनाई गूंजेगी। अक्षय तृतीया के बाद शादियां तो शुरू हो जाएंगी लेकिन इस बार श्रेष्ठ मुहूर्त कम निकलने से विवाह के लिए समय कम मिलेगा। 12 मई को अंतिम श्रेष्ठ मुहूर्त आएगा।

इसके बाद 16 मई से अधिक मास लग जाएगा। जो 13 जून तक रहेगा। इस अवधि में भी शादियां सहित अन्य मांगलिक कार्य नहीं होंगे। शादियों को लेकर योग ज्योतिष व शास्त्रियों के यहां मुहूर्त के इंतजार में हैं। सावों की तिथि पहले मिल जाने से ही विवाह की सही तैयारियां हो पाती है, पैलेस, हलवाई व अन्य चीजों बुक कराने के लिए आजकल मारामारी रहती है।

विवाह के लिए 13 श्रेष्ठ मुहूर्त

पं. रामेश्वर शास्त्री के अनुसार शादियों के लिए 13 मुहूर्त श्रेष्ठ रहेंगे। इसमें अप्रैल माह में 18, 19, 20, 26, 27, 28, 29, 30 व मई माह में 4, 8, 9, 11 व 12 शादियों के लिए अच्छे मुहूर्त है।

16 मई से अधिकमास शुरू, 13 जून तक शादियों के मुहूर्त नहीं