Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» पंचायतों पर ई-मित्र प्लस मशीन से बिल भुगतान सहित कई कार्य होंगे सुलभ

पंचायतों पर ई-मित्र प्लस मशीन से बिल भुगतान सहित कई कार्य होंगे सुलभ

भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर ई-मित्र प्लस मशीन लगाई जा रही है। इस मशीन...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:40 AM IST

भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी

जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर ई-मित्र प्लस मशीन लगाई जा रही है। इस मशीन से कोई भी व्यक्ति अपने प्रमाण पत्र प्रिंट कर प्राप्त कर सकेंगे। मशीन की स्क्रीन पर स्टेटस देख सकेंगे। बिलों का भुगतान, परीक्षाओं का परिणाम, अंक तालिकाओं का प्रिंट भी ले सकेंगे। अमूमन सभी पंचायतों में मशीने पहुंच गई हंै। साफ्टवेयर भी इस्टॉल किया जा चुका है।

इसी माह में इनको उपयोग के लिए शुरू कर दिया जाएगा। मशीन पर उपलब्ध सेवाओं में डिजिटल प्रमाण पत्र में मूल निवास और जाति प्रमाण पत्र की सेवा जल्दी ही शुरू हो जाएगी। इसे नकद भुगतान से प्राप्त किया जा सकेगा।

ई-मित्र कियोस्क धारक से डिजिटल प्रमाण पत्र का प्रिंट प्राप्त करने पर 21 रुपए का टोकन कटता है लेकिन इस मशीन से आमजन स्वयं 10 रुपए जमा कर डिजिटल प्रमाण पत्र का प्रिंट ले सकते हंै। मशीन केवल नोट ही स्वीकार करती है सिक्के डालने का विकल्प उपलब्ध नहीं है। बिजली, पानी और मोबाइल पोस्टपेड बिलों का भुगतान नकद, डेबिट या क्रेडिट कार्ड से करते ही रसीद मिलेगी।

नकदी से बिल का भुगतान 10 रुपए के गुणक में ही किया जा सकता है। यदि किसी की देय राशि 117 रुपए है तो मशीन 120 रुपए प्राप्त करेगी तथा शेष 3 रुपए का लाभ अगले बिल में अपने आप कम करके दिया जाएगा। ई मित्र कियोस्क से किए गए आवेदन का टोकन संख्या दर्ज कर आवेदन की वर्तमान स्थित पता की जा सकती है।

प्रत्येक मशीन 24 घंटे ऑनलाइन रहेगी

मशीन को संचालित करने के लिए सभी जगह एक-एक कार्मिक रखा गया है। ग्रामवासी केवल मशीन तक पहुंचकर अपनी बात बता सकते है। यह कर्मचारी स्वयं ही लोगों को मशीन का संचालन करना सिखाएंगे। मशीन 24 घंटे ऑनलाइन नेटवर्क से जुड़ी हुई रहेगी। यह सुविधा मिलने से अब लोगों को सरकारी कार्यालयों में अपने प्रमाण पत्रों और दस्तावेजों के लिए चक्कर नहीं काटने होंगे। जिस प्रमाण पत्र को जारी होने में जितना समय लगाना है उतने समय में स्वत: प्रमाण पत्र बनकर ऑनलाइन अपलोड हो जाएंगे। इस मशीन से लाभार्थी प्रिंट लेकर उसे असल के रूप में प्रयोग कर सकेंगे। छात्रों के प्रतियोगी परीक्षाओ ंके आवेदन परिणाम, स्कूल और कालेज शिक्षा के ऑनलाइन आवेदन और परिणाम की अंक तालिका भी यही से प्रिंट ली जा सकेगी।

20 से ई-वे बिल लागू

गंगापुर सिटी। जीएसटी काउंसिल के निर्णय के अनुसार प्रदेश में आगामी 20 मई से ई-वे बिल प्रणाली की शुरूआत होगी।

स्थानीय वाणिज्यिक कर विभाग के अधिकारियों ने बताया कि विभाग के आयुक्त आलोक गुप्ता ने जीएसटी 2017 के नियम 138 के तहत अधिसूचना जारी कर दी है। उक्त अधिनियम के अनुसार अब 20 मई से राज्य के अंदर 50 हजार रुपए मूल्य व उसे अधिक मूल्य के कर योग्य माल पर व्यापारियों, माल परिवहनकर्ताओं को ई-वे बिल जनरेट करना अनिवार्य होगा। राज्य के भीतर ई-वे बिल प्रणाली लागू करने वाला राजस्थान देश का 20वां राज्य है। अंतरराज्यीय ई-वे बिल प्रणाली लागू होने पर देश में जीएसटी के तहत माल परिवहन में एकरूपता आएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×