Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा

दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा

वर्किंग कमेटियों के बिना शहर की सरकार कोई भी काम नहीं कर पा रही। सभी 91 वार्डों का विकास रुक गया, सियासत ने 17 माह तक...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:00 AM IST

  • दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा
    +3और स्लाइड देखें
    वर्किंग कमेटियों के बिना शहर की सरकार कोई भी काम नहीं कर पा रही। सभी 91 वार्डों का विकास रुक गया, सियासत ने 17 माह तक शहरी सरकार को कमजोर कर दिया। 13 दिसंबर 2016 को तत्कालीन मेयर निर्मल नाहटा से इस्तीफा लिया गया और वर्किंग कमेटियों के चेयरमैन-सदस्यों से भी नए मेयर अशोक लाहोटी ने इस्तीफे ले लिए। फिर शहर भाजपा, मेयर, विधायक, सांसद व चेयरमैन पार्षदों में ऐसी लॉबिंग चली की कमेटियां बन ही नहीं पाई। 22 कमेटियों के 26 चेयरमैन बनाए हैं। 8 को पहली बार चेयरमैन बनाया गया है।

    निगम कमेटियों में आखिरकार मेयर अशोक लाहोटी की ही चली, कमेटियों में उन चेयरमैनों को बाहर कर दिया गया जो भ्रष्टाचार में लिप्त पाए गए। साथ ही लाहोटी ने अपने विरोधी पार्षदों को भी चेयरमैन नहीं बनने दिया, जो बनाए गए उनका कद कम कर दिया गया। उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत गुट के मान पंडि़त से गैराज कमेटी छीनकर उन्हें रोड लाइट कमेटी के तीन में से एक का चेयरमैन बनाया है। इसी तरह राखी राठौड़ को वित्त कमेटी की बजाय अपराधों का शमन व समझौता कमेटी दी गई है। इसी तरह सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी के करीबी भवानीसिंह राजावत से कच्ची बस्ती समिति छिनकर अशोक परनामी गुट की निर्दलीय से भाजाप में आई पार्षद संतरा वर्मा को दी गई है। मेयर की खुलकर खिलाफत करने वाले लाइसेंस कमेटी के पूर्व चेयरमैन विष्णु लाटा और सफाई समिति के चेयरमैन रहे अनिल शर्मा, दिनेश अमन व प्रकाश गुप्ता को चेयरमैन नहीं बनाया गया। पूर्व मेयर निर्मल नाहटा को तीन कमेटियों में बतौर सदस्य रखा गया है। डिप्टी मेयर मनोज भारद्वाज से नियम-उपनियम कमेटी हटाकर तेजेश शर्मा को चेयरमैन बनाया है। मेयर ने भवन अनुज्ञा एवं संकर्म समिति खुद के पास रखी है।

    डीएलबी डायरेक्टर पवन अरोड़ा ने बताया- कमेटी बनाने के लिए मेयर अधिकृत थे। उनके प्रस्ताव के अनुसार सरकार ने पुरानी की जगह नई कमेटियां गठित की है। हालांकि सरकार के स्तर पर पुरानी कमेटियां भंग नहीं की गई थीं, केवल निगम के स्तर पर ही कमेटियों से इस्तीफे लिए जाने से कार्य नहीं कर रही थी।

    17 माह बाद बनी निगम की वर्किंग कमेटियां, काम टालने के बहाने खत्म

    ये 8 पार्षद पहली बार बने चेयरमैन

    संजय जांगिड़, सर्वेश लोहिवाल, संतरा वर्मा, राजेश बिवाल, बाबूलाल दातोनिया, गोपाल कृष्ण शर्मा, तेजेश शर्मा और मुकेश लख्यानी को चेयरमैनशिप दी गई है।

    ये वो पार्षद हैं जो शुरू से ही विवादों से दूरियां बनाए रखी

    दो कमेटियां पहली बार बनी, एक दोबारा

    होर्डिंग एवं नीलामी कमेटी पहली बार बनाई गई है। ताकि विज्ञापन शुल्क वसूली पर सख्ती की जा सके। इसी तरह फुटकर व्यवसाय पुनर्वास कमेटी भी पहली बार बनाई गई है, ताकि वेंडर जोन बनाए जाने के कार्य को गति मिल सके। जबकि सीवरेज संधारण कमेटी जो पिछले बोर्ड में थी, उसे फिर से बनाया गया है। कारण, शहर के लिए सीवरेज जाम की समस्या बड़ी है।

    नाम बदले, अब काम की बारी

    पूर्व मेयर नाहटा किसी समिति में अध्यक्ष नहीं

    निगम के इसी बोर्ड के दौरान लाहोटी से पहले मेयर रहे निर्मल नाहटा नई 22 समितियों में से किसी में भी अध्यक्ष नहीं है। अपराधों का शमन एवं समझौता समिति राखी राठौड़ की अध्यक्षता में बनाई गई है। नाहटा को केवल इस समिति मे सदस्य बनाया गया है। लोक वाहन समिति में भी भगवतसिंह देवल के नीचे सदस्य बनाया गया है। मुकेश कुमार कलवानी की अध्यक्षता वाली लाइसेंस समिति में भी नाहटा सदस्य है।

    निगम मुख्यालय में कमेटी चेयरमैनों के चैंबर रातों रात तैयार करते निगम कर्मचारी

    कमेटियां और उनके चेयरमैन

    कार्यकारिणी समिति अशोक लाहोटी

    वित्त समिति सत्यनारायण धामाणी

    स्वास्थ्य समिति ए 1 से 31 वार्ड संजय जांगिड़

    स्वास्थ्य समिति बी 32 से 60 वार्ड सर्वेश लोहिवाल

    स्वास्थ्य समिति सी 61 से 91 वार्ड राजेश गुप्ता

    भवन संकर्म समिति अशोक लाहोटी

    गंदी बस्ती सुधार समिति संतरा वर्मा

    नियम व उपविधि समिति तेजेश कुमार शर्मा

    अपराधों का शमन एवं समझौता समिति राखी राठौड़

    लोक वाहन समिति भगवत सिंह देवल

    लाइसेंस समिति महेश कुमार कलवाणी

    विद्युत-सार्वजनिक प्रकाश स. ए1 से 31 मान पंडित

    विद्युत-सार्वजनिक प्रकाश स. बी32 से 60 चंद्र भाटिया

    विद्युत-सार्वजनिक प्रकाश स. सी 61 से 91 राजेश बिवाल

    नगरीय विकास कर समिति निर्मला शर्मा

    फायर समिति मुकेश कुमार लख्यानी

    उद्यान विकास एवं पर्यावरण समिति विमलेश मीणा

    पशु नियंत्रण एवं संरक्षण समिति नारायण लाल निनावत

    सांस्कृतिक समिति भंवर लाल सैनी

    स्वर्ण जयंती एवं शहरी रोजगार समिति सुरेंद्र सिंह रॉबिन

    सामाजिक सहायता एवं लोक कल्याण गोपाल कृष्ण शर्मा

    वर्षा जल पुनर्भरण एवं संरक्षण समिति भवानी सिंह राजावत

    होर्डिंग एवं नीलामी समिति मनोज भारद्वाज

    महिला उत्थान समिति कुसुम यादव

    फुटकर व्यवसाय पुनर्वास समिति बाबूलाल दातोनिया

    सीवरेज संधारण समिति नवरतन नराणिया

    सिर्फ भास्कर में

    91 वार्डों में अब होगा िवकास

    91 वार्डों के विकास से जुड़े इस इश्यू पर डीएलबी डायरेक्टर ने कहा-सरकार ने कमेटियां भंग नहीं की थी, मेयर ने पुनर्गठन िकया, सरकार ने मंजूरी दी

  • दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा
    +3और स्लाइड देखें
  • दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा
    +3और स्लाइड देखें
  • दैनिक भास्कर ने उठाया था मुद्दा
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×