Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» संयुक्त राष्ट्र संघ में लगी जयपुर फुट की प्रदर्शनी

संयुक्त राष्ट्र संघ में लगी जयपुर फुट की प्रदर्शनी

सेमिनार में खड़े जॉन मैथ्यू, जो दो दिन पहले जयपुर से जयपुर फुट लगाकर सेमिनार में पहुंचे। रेखा भंडारी, डीआर मेहता...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:05 AM IST

संयुक्त राष्ट्र संघ में लगी जयपुर फुट की प्रदर्शनी
सेमिनार में खड़े जॉन मैथ्यू, जो दो दिन पहले जयपुर से जयपुर फुट लगाकर सेमिनार में पहुंचे। रेखा भंडारी, डीआर मेहता सैयद अकबरुद्दीन को जयपुर फुट के बारे में बताते हुए।

सिटी रिपोर्टर. जयपुर

संयुक्त राष्ट्र संघ के न्यूयार्क स्थित मुख्यालय में जयपुर निर्मित जयपुर फुट की प्रदर्शनी लगी हुई है। इस प्रदर्शनी का आयोजन संयुक्त राष्ट्र संघ के सानिध्य में भारत के संयुक्त राष्ट्र में स्थायी प्रतिनिधि मिशन और जयपुर फुट अमेरिका की ओर से किया गया है। प्रदर्शनी में जयपुर फुट की उपयोगिता और उसके 50 वर्षों की यात्रा के बारे में बताया गया है। जिसके कारण 29 देशों में 66 कैंपों के माध्यम से दिव्यांग चलने फिरने के काबिल हुए हैं और सम्मान पूर्वक जीवन जी रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत में निर्मित जयपुर फुट के प्रदर्शन को गौरव की बात मानते हैं। उनका कहना है कि जयपुर फुट भारत का पहला एेसा उत्पाद है जिसके प्रदर्शन की स्वीकृति संयुक्त राष्ट्र संघ ने केवल इस कारण दी है क्यों कि मानव सेवा के क्षेत्र में जयपुर फुट की अद्भुत भूमिका है। जयपुर फुट यूएसए के अध्यक्ष प्रेम भंडारी ने भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हीं के प्रयासों से जयपुर फुट के 50 वर्ष भी गौरवगाथा को आज विश्वभर में प्रसिद्धि मिल रही है। यह एक भारतीय उत्पाद के उपयोगिता और गुणवत्ता का सम्मान है। जिसमें देश विदेश में भारत का नाम किया है। आज संयुक्त राष्ट्र संघ के सदस्य देशों के प्रतिनिधियों के बीच जयपुर फुट के प्रदर्शन से इसका विश्व भर में प्रचार हुआ है। इस अवसर पर अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में रह रहे व्यसायी राजीव डागा और नीता डागा ने जयपुर फुट के लिए एक करोड 35 लाख रुपए के का चेक जयपुर फुट यूएसए के चेयरमैन प्रेम भंडारी को दिया। डागा परिवार हर वर्ष जयपुर फुट को आर्थिक सहायता देता है। सेमिनार में कुवैत के पूर्व राजदूत सतीश मेहता सहित 20 से ज्यादा देशों के राजदूतों ने भाग लिया।

जयपुर फुट की उत्पादक संस्था भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति के संस्थापक व मुख्य संरक्षक डीआर मेहता ने घोषणा की है कि जयपुर फुट के बाद अब कृत्रिम हाथ जयपुर हैंड के निर्माण की तैयारी चल रही है। अमेरिकी विश्वविद्यालय में जयपुर हैंड पर शोध हो रहा है और उच्च गुणवत्ता वाले इस कृत्रिम हाथ से मानव सेवा शीघ्र शुरू होगी। इस अवसर पर भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य डॉ विनयसहत्रबुद्धे, राज्यसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक नारायण लाल पंचारिया, जम्मू कश्मीर के मंत्री एस ए कोहली भी उपस्थित थे। इस अवसर पर नाईजीरिया के नागरिक जॉन मैथ्यू जिन्हे जयपुर फुट के कारण चलना फिरना संभव हुआ ने विदेशी प्रतिनिधियों के बीच चलकर प्रदर्शन किया । मैथ्यू ने कहा कि प्रेम भंडारी एवं आशिता ढड्डा के प्रयासों से यह सब संभव हुआ। साथ ही बताया कि उनका जयपुर फुट विदेशों में बनने वाले 25 लाख रुपए की कीमत वाले कृत्रिम पैर से कहीं ज्यादा उपयोगी है। जयपुर फुट ब्रांड के पैर की कीमत भारत में केवल 60 डॉलर है। जयपुर में जरूरतमंद दिव्यांगों को यह निशुल्क लगाया जाता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×