Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» निर्मला मीणा ने सरकार से छिपाए रखा सच... एसीबी को 18 संपत्तियां मिलीं, डीओपी को बताई थीं चार

निर्मला मीणा ने सरकार से छिपाए रखा सच... एसीबी को 18 संपत्तियां मिलीं, डीओपी को बताई थीं चार

गेंहूू की कालाबाजारी के मामले में एसीबी के हाथों गिरफ्तार आईएएस निर्मला मीणा ने अपनी सम्पति को सरकार से भी छुपाया...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:05 AM IST

गेंहूू की कालाबाजारी के मामले में एसीबी के हाथों गिरफ्तार आईएएस निर्मला मीणा ने अपनी सम्पति को सरकार से भी छुपाया है। हर साल डीओपी को दी जाने वाली अपनी अचल सम्पति की घोषणा में 18 में से महज चार सम्पतियों को ही सार्वजनिक किया है। ये सारी सम्पतियां आईएएस श्रीमती मीणा और उनके पति पवन मित्तल के नाम से हैं। एसीबी ने निर्मला मीणा के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला भी दर्ज किया है।

अखिल भारतीय सेवा और राज्य सेवा के अधिकारियों को हर साल डीओपी को संपत्ति की संबंधित सूचना देना अनिवार्य है। सूचना गलत देने या छुपाने पर सेवा आचरण नियमों के तहत कार्रवाई की जाती है। इसलिए अधिकारियों की ओर से जो भी सम्पति घोषित की जाती है उसको डीओपी की साइट पर सार्वजनिक किया जाता है। -भास्कर ए. सावंत. शासन सचिव, डीओपी

सरकार को अचल सम्पति की घोषणा में ये बताया-

निर्मला मीणा के 20 फरवरी 2017 को डीओपी में दिए विवरण में ये चार संपत्तियां-

जयपुर में 26 लाख रुपए का मकान। जोधपुर में 16 लाख का मकान व 18 लाख रुपए का भूखंड। बाड़मेर के पचपदरा में 15 बीघा कृषि भूमि 14 लाख रुपए।

एसीबी के रिकॉर्ड के अनुसार- साल दर साल यूं बढ़ी संपत्ति

वर्ष 1995- रजत अपार्टमेंट, मानसरोवर जयपुर में पति के नाम फ्लैट।

वर्ष 2004- बाड़मेर के पचपदरा में 15 बीघा कृषि भूमि खुद के नाम। बिनावास में 3 बीघा कृषि भूमि पति के नाम। जोधपुर में पाल गांव में 2400 वर्ग फीट व 2700 वर्ग फीट का भूखंड बेटे के नाम। झालामंड में कृषि भूमि पति के नाम।

वर्ष 2005- जयपुर में मंगल विहार में फ्लैट स्वयं और पति के नाम। जोधपुर के कुड़ी भगतासनी और इन्दिरा गांधी नगर में भूखंड स्वयं के नाम।

वर्ष 2007- जोधपुर में उचियारड़ा में कन्वर्टेड भूखंड स्वयं और पति के नाम।

वर्ष 2010- जोधपुर के राजीव गांधी नगर, आवासन मंडल कॉलोनी व कृष्णा नगर में भूखंड स्वयं के नाम। वर्ष 2013- आबूरोड के ओरिया में पति के नाम जमीन। आशापूर्णा वैली जोधपुर में पति के नाम से भूखंड।

वर्ष 2017- एसार पैट्रोल पम्प में पति के नाम से निवेश। जोधपुर के उम्मेद हैरिटेज और आशापूर्णा वैली में एक-एक भूखण्ड।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×