--Advertisement--

पंचायतीराज मंत्रालयिक कर्मियों का आंदोलन आज से

जयपुर| पंचायती राज विभाग के मंत्रालयिक कर्मचारी मनरेगा संविदा कर्मियों के आंदोलन के समर्थन में कैडर रिव्यू की...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:30 AM IST
जयपुर| पंचायती राज विभाग के मंत्रालयिक कर्मचारी मनरेगा संविदा कर्मियों के आंदोलन के समर्थन में कैडर रिव्यू की मांग सहित नैसर्गिक न्याय नहीं मिलने पर क्षुब्ध होकर शुक्रवार से आंदोलन पर जा रहे हैं। ये मंत्रालयिक कर्मचारी शुक्रवार से ही मनरेगा से संबंधित कामों का बहिष्कार करने के साथ ही राज्य, जिला और ब्लॉक स्तर पर अधिकारियों को ज्ञापन देंगे। ये कर्मचारी 24 मई से आंदोलन को तेज करते हुए पंचायती राज के कार्यालयों के सामने आम लोगों को ठंडा पानी और शरबत पिलाकर आंदोलन सफल होने के लिए आशीर्वाद मांगेंगे। पंचायतीराज मंत्रालयिक कर्मचारी संगठन (राजस्थान) के प्रदेशाध्यक्ष कमलेश कुमार शर्मा ने बताया कि शासन की रीढ़ के रूप में कार्यरत मंत्रालयिक कर्मचारी और वर्षों से संविदा का दंश झेल रहे मनरेगा कार्मिकों नैसर्गिक न्याय से वंचित हैं। मनरेगा कर्मी पिछले दस साल से मानदेय पर काम करते नियमितिकरण की बाट देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन मनरेगा कर्मियों के समर्थन के साथ मंत्रालयिक कर्मचारियों की अपनी मांगें भी हैं। उन्होंने बताया कि इन मांगों में कैडर रिव्यू कर कैडर स्ट्रेंथ बढाने, कनिष्ठ लिपिक भर्ती-2013 में शेष रहे पदों पर पुन: भर्ती जल्द करने, गृह जिले में स्थानांतरण के संबंध में नियम बनाने, अनुकंपा नियुक्ति में लगे कनिष्ठ लिपिकों को टंकण परीक्षा से राहत देने की मांग शामिल है।