Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» चुनाव किसके नेतृत्व में? सीएम का चेहरा कौन?

चुनाव किसके नेतृत्व में? सीएम का चेहरा कौन?

सत्ता के ट्रेंड, बेरोजगार, आरक्षण जैसे सवालों के जवाब | पेज 7 पर खराब परफाॅर्मेंस वाले मंत्रियों व विधायकों के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 04:35 AM IST

चुनाव किसके नेतृत्व में? सीएम का चेहरा कौन?
सत्ता के ट्रेंड, बेरोजगार, आरक्षण जैसे सवालों के जवाब | पेज 7 पर

खराब परफाॅर्मेंस वाले मंत्रियों व विधायकों के टिकट कटेंगे

चुनाव वसुंधरा के नेतृत्व में ही, जीते तो राजे ही सीएम

जनता के सवाल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी के जवाब...

जयपुर | राज्य के चुनावी माहौल में दैनिक भास्कर ने राजनीतिक पार्टियों के दिग्गज नेताओं से सवाल पूछने के लिए ‘प्रश्न पूछिए @ भास्कर न्यूज रूम’ के जरिए पाठकों को मंच प्रदान किया। इस कड़ी में गुरुवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी से सवाल-जवाब हुए। प्रदेश भर से हजारों पाठकों ने मैसेज भेजकर सैनी पर सियासी, सामाजिक और प्रदेश के ज्वलंत मुद्दों से जुड़े सवाल दागे। बेहतरीन सवाल करने वाले चुनिंदा पाठकों को भास्कर न्यूजरूम में आकर सैनी से सवाल पूछने का मौका दिया गया। पेश हैं सवाल-जवाब।

सीएम का चेहरा, उपचुनाव की हार

 चुनाव किसके नेतृत्व में ? उपचुनाव के नतीजाें के बाद सीएम का चेहरा बदलेगा? -तिजारा के जगमाल यादव ने पूछा।

मदनलाल सैनी का जवाब : विधानसभा का चुनाव सीएम वसुंधरा राजे की अगुवाई में लड़ा जाएगा। केंद्र सरकार और राज्य सरकार की जनहित की योजनाओं और पार्टी कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम के बलबूते हम एक बार फिर सत्ता में आएंगे। पार्टी जीती तो वसुंधरा राजे ही प्रदेश की मुख्यमंत्री बनेंगी।

होनहार विद्यार्थी कभी परीक्षा के समय बीमार पड़ जाता है और उसके कम नंबर आते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि वह कमजोर हो गया। अगली परीक्षा में मेहनत का फल उसे जरूर मिलता है। उपचुनाव में हार के स्थानीय कारण भी हो सकते हैं।

एंटी-इनकमबेंसी का क्या?



 पार्टी क्या 100 मौजूदा विधायकों के टिकट काटने वाली है? कई की सीटें बदलेंगी? मंत्री या नेताओं के पुत्र-पुत्रियों को पार्टी टिकट देगी ?

पार्टी में किसे टिकट दिया जाएगा? यह सब पार्टी का पार्लियामेंट्री बोर्ड तय करता है। लेकिन खराब परफाॅर्मेंस वाले मंत्रियों व विधायकों के टिकट कटेंगे। पार्टी अध्यक्ष के नाते मैं मंत्री, विधायक या नेताओं के बेटे-बेटियों को टिकट दिए जाने के खिलाफ नहीं हूं, बशर्ते वे बतौर कार्यकर्ता पार्टी में अपनी सेवाएं दे रहे हो। भाजपा ऐसी पार्टी है जहां कार्यकर्ता की मेहनत का पूरा सम्मान होता है।

और ब्राह्मण, राजपूतों की नाराजगी

 घनश्याम तिवाड़ी के भाजपा छोड़ने से ब्राह्मण व कई मुद्दों पर राजपूत नाराज हैं? क्या करेंगे? -धौलपुर से श्रीभगवान

मदनलाल सैनी का जवाब : पद्मावत फिल्म को प्रदेश सरकार ने बैन किया, प्रदर्शित नहीं होने दी। आनंदपाल का इतिहास किसी से छिपा नहीं है। इसलिए, ज्यादा बात नहीं करूंगा। राजपूत समाज हमेशा भाजपा से जुड़ा रहा। मैं लोकेंद्र कालवी से मिला हूं। वे पार्टी में सीनियर रहे हैं। आगे भी मिलता रहूंगा।

घनश्याम तिवाड़ी मेरे पुराने मित्र रहे हैं। उनसे भी बात करूंगा। हमने पुराने साथी डाॅ. किरोड़ी लाल मीणा को भी भाजपा से दोबारा जोड़ा है। हनुमान बेनीवाल से भी बात करेंगे। सबको साथ लेकर आगे बढ़ेंगे। किसी को नाराज नहीं रहने देंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×